फिरोजाबाद में राजनीति का केंद्र हैं माता सीयर देवी:निषाद समाज की कुलदेवी के यहां लगती है नेताओं की भीड़, 1 लाख वोटरों को रिझाने की होती है कोशिश

फिरोजाबाद3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

चुनाव आते ही उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में यमुना की खादरों में बसी माता सीयर देवी पर नेताओं की आस्था स्वत: ही बढ़ जाती है। इसे राजनीति कहें या आस्था। निषाद समाज के एक लाख से अधिक वोटर माता सीयर देवी को कुल देवी के रूप में पूजते हैं।

बता दें कि विधानसभा चुनावों की डुगडुगी बज चुकी है। 20 फरवरी यानि तीसरे चरण में फिरोजाबाद विधानसभा की पांचों सीटों पर मतदान होना है। हालांकि अभी कांग्रेस और बसपा को छोड़ अन्य किसी दल ने प्रत्याशियों के नामों की घोषणा नहीं की है। बसपा ने एक टूंडला और कांग्रेस ने 4 सीटों पर प्रत्याशी तय किए हैं। चुनाव आते ही इस मंदिर पर सिर झुकाने वाले विभिन्न पार्टी के नेताओं की लाइन लग जाती है। इस देवी को निषाद समाज की कुलदेवी के रूप में भी पूजा जाता है।

राजबब्बर ने यहां चबूतरे और रेलिंग का निर्माण कराया था

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह भी यहां कई बार देवी के मंदिर पर हाजिरी लगा चुके हैं। वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव में पूर्व मुख्यमंत्री और सपा मुखिया अखिलेश यादव चुनाव लड़े थे। उस समय भी अखिलेश यादव ने माता सीयर देवी के दरबार में हाजिरी लगाई थी। दो जगह से चुनाव लड़ने की वजह से अखिलेश यादव ने फिरोजाबाद सीट को छोड़ कन्नौज को रखा था। उसके बाद उन्होंने धर्मपत्नी डिंपल यादव को उपचुनाव लड़ाया था। उसी समय डिंपल यादव के सामने कांग्रेस प्रत्याशी राजबब्बर चुनाव लड़े थे। चुनाव लड़ने से पहले राजबब्बर ने इस माता के मंदिर पर मत्था टेका था और विजय के लिए आशीर्वाद लिया था। चुनाव जीतने के बाद राजबब्बर ने इस देवी के मंदिर पर चबूतरे और रेलिंग का निर्माण कराया था।

बीते साल 5 अप्रैल को पहुंचे थे अखिलेश

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव 5 अप्रैल को माता सीयर देवी के मंदिर पर आए थे। जहां उन्होंने हवन-पूजन करते हुए निषाद समाज के वोटरों को लुभाने का काम किया था। मंदिर में पूजा-अर्चना करने के साथ ही सरकार में आने पर इस क्षेत्र का विकास कराने के लिए कहा था। इससे पहले भी अखिलेश यादव इस क्षेत्र में जनसभाएं कर चुके हैं। अखिलेश यादव की घोषणा के बाद बीजेपी ने इस क्षेत्र को पर्यटक क्षेत्र विकसित कराए जाने के उद्देश्य से 2 किस्तों में एक करोड़ 30 लाख रुपए जारी किए हैं। राजनीतिक लोगों का विश्वास है कि यहां मत्था टेकने से न केवल इस विधानसभा इलाके में बल्कि प्रदेश भर की सभी सीटों पर उसे विजय मिलती है।

निषाद समाज के करीब एक लाख 56 हजार वोटर

भाजपा के पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष महीपाल निषाद बताते हैं कि जिले भर में निषाद समाज के करीब एक लाख 56 हजार वोटर हैं। इनमें से टूंडला विधानसभा में 26 हजार, फिरोजाबाद विधानसभा में 30 हजार, शिकोहाबाद विधानसभा में 80 हजार और सिरसागंज विधानसभा में 20 हजार वोटर हैं।