World Hypertension Day 2022: हर तीसरा व्यक्ति बीमारी का शिकार:ब्रेन हेमरेज, गुर्दे खराब होने और आंखों का पर्दा खराब होने से रोशनी भी जाने की रहती है आशंका

फिरोजाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में लगी मरीजों की भीड़ - Dainik Bhaskar
अस्पताल में लगी मरीजों की भीड़

विश्व उच्च रक्तचाप दिवस (World Hypertension Day) आज पूरे देश में मनाया जा रहा है। इस बीमारी से हर तीसरा व्यक्ति ग्रसित है। लापरवाही बरतने पर इसमें कई अन्य बीमारियां भी लोगों को घेर लेती हैं। अधिक तनाव व्यक्ति को मौत के मुंह तक खींचकर ले जाता है।

अचानक बढ़ जाती है दिल की धड़कन
फिरोजाबाद के मेडिकल कॉलेज अस्पताल में फिजीशियन की ओपीडी में प्रतिदिन करीब 300 से अधिक मरीज पहुंचते हैं। एसोसिएट प्रोफेसर और वरिष्ठ फिजीशियन डॉ. मनोज कुमार ने बताया कि इन मरीजों में करीब 30 प्रतिशत लोग बीपी से पीड़ित होते हैं। यह आंकड़ा उन मरीजों का है जो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पहुंंचते हैं। तमाम मरीज प्राइवेट डाक्टरों से इलाज कराते हैं। डॉक्टर ने बताया कि बीपी बढ़ने का असर पूरे शरीर पर पड़ता है। इसकी वजह से हृदय संबंधी बीमारियां होने के साथ ही ब्रेन हेमरेज, गुर्दे खराब होने, आंखों का पर्दा खराब होने से रोशनी भी जाने की आशंका रहती है। उचित खानपान का न होना और दिनचर्या में बदलाव लोगों को उच्च रक्तचाप का मरीज बना रहा है। अचानक धड़कन तेज होने लगती है।

हाई ब्लड प्रेशर से बचाव की दी जानकारी
डॉ. मनोज कुमार ने बताया कि बीपी नियंत्रित रखने के लिए अधिक नमक का सेवन नहीं करना चाहिए। प्रतिदिन छह ग्राम से कम नमक लेना चाहिए। धूम्रपान और तंबाकू का सेवन नहीं करना चाहिए। शराब नहीं पीनी चाहिए। चिकनाई कम ली जाए। रोजाना व्यायाम और योगासन करना चाहिए। मानसिक तनाव से दूर रहना चाहिए। दवाओं का नियमित इस्तेमाल करना चाहिए। उन्होंने बताया इस बीमारी का पता लगाने के लिए सिर में दर्द होना, चक्कर आना, दिल घबराना, सिर दर्द, चलने पर सांस फूलना, कमजोरी महसूस होना, बहुत जल्द गुस्सा आना, धुंधलापन दिखना आदि ऐसी बातें हैं जिनके जरिए हाई ब्लड प्रेशर का पता लगाया जा सकता है।

गलत खानपान भी है बीपी बढ़ने का कारण
सीएमओ डॉ. दिनेश कुमार प्रेमी ने बताया कि गलत खानपान, अधिक समय तक सोच विचार करना, छोटी—छोटी बातों पर चिड़चिड़ा हो जाना यह बीपी की शिकायत हो सकती है। इस बीमारी से बचने के लिए स्वयं को मानसिक तौर पर मजबूत करना होगा। सुबह योगा और मेडिटेसन जरूर करें।

खबरें और भी हैं...