सिरसागंज में बेजुबानों के लिये पानी के नहीं इंतजाम:सिरसागंज नगर पालिका ने नांद बनवाई, पानी नहीं भरा, गो रक्षकों ने नाराजगी जताई

सिरसागंज3 महीने पहले

पशु और पक्षियों के लिए नगर के अलावा अन्य इलाकों में भी पीने के पानी के लिए कोई इंतजाम नहीं है। ​​​​​​सिरसागंज नगर के इटावा रोड पर महाकालेश्वर मंदिर के पास नगर पालिका द्वारा आवारा पशुओं के लिए किसी समय पानी की व्यवस्था के लिए 2 नांद बनवाई गई थी।

गो रक्षकों की माने तो उनका कहना है कि लगातार पड़ रही भंयकर गर्मी के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त है। और दूसरी तरफ नगर पालिका द्वारा बनाई गई नाद में कीड़े मकोड़ों व काई के अलाबा कुछ नजर नही आ रहा है। नगर के अन्य स्थानों पर भी आवारा पशुओं के लिए कहीं भी पीने के लिए पानी मुहैया नहीं है। स्थिति यह है कि जानवर पानी के लिए दूर-दूर तक भटक रहे हैं।

नगर पालिका द्वारा किसी समय नगर में पानी की टंकियां रखवाने के साथ उन्हें प्रतिदिन भरवाया जाता था। इससे आवारा पशुओं को पानी के लिए भटकना नहीं पड़ता था, अब मई माह की भी शुरुआत हो गयी है लेकिन नपा द्वारा कोई उचित व्यवस्था नहीं की गई है।

नगर में सैंकड़ों आवारा पशु हैं, जिनके लिए न तो चारे की व्यवस्था है और न ही गोशाला में जगह। नांद के पास पानी की आस में पशु वहां पहुंचते हैं और निराश लौट जाते हैं। गो रक्षक अमन प्रताप सिंह ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा कि नगर पालिका द्वारा इतनी भयंकर गर्मी मे भी अभी तक कोई पीने के लिए उचित व्यवस्था नहीं की गई है।

साथ ही नाराजगी भी जताई और कहा कि आवारा पशुओं के लिए बनाई गई 2 नाद मे भी कीड़े मकोड़े और काई के अलावा कुछ नजर नहीं आ रहा है।

खबरें और भी हैं...