सिरसागंज में रजबहा कटने से 100 बीघा फसल जलमग्न:ग्रामीणों ने जेसीबी मशीन से रजबहा को कराया ठीक, अफसर नहीं पहुंचे अभी तक

सिरसागंज (फिरोजाबाद)4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सिरसाकंज में मंगलवार की रात बाछेमई और नगला मानधात के पास रजबहा कटने से 100 बीघा से अधिक आलू और गेहूं की फसल जलमग्न हो गई। इसकी जानकारी ग्रामीणों को बुधवार सुबह हुई। उन्होंने सिंचाई विभाग के अफसरों को इस बारे में खबर दी, लेकिन सिंचाई विभाग के अफसर मौके पर नहीं पहुंचे। तब कहीं जाकर ग्रामीणों ने जेसीबी मशीन को बुलाकर रजबहा को ठीक कराया।

कठफोरी क्षेत्र के गांव बाछेमई और नगला मानधाता से रजबहा होकर गुजर रहा है। रात बाछेमई और नगला मानधाता के बीच रजबहा कट गया। इससे करीब 100 बीघा से अधिक आलू और गेंहू की फसल जलमग्न हो गई। ग्रामीणों का कहना है कि इसकी जानकारी सिंचाई विभाग के अफसरों को दी गई। फिर भी सिंचाई विभाग के अफसर मौके पर नहीं पहुंचे। जिसके बाद ग्रामीणों ने जेसीबी के माध्यम से रजबहा ठीक कराया। खेतों में भरे पानी की निकासी ट्राली लगाकर कराई गई।

100 बीघा में फैली फसल जलमग्न हो गई है।
100 बीघा में फैली फसल जलमग्न हो गई है।

ग्राम प्रधान अवनीश यादव ने बताया कि विभागीय लापरवाही से सौ बीघा के करीब आलू गेहूं की फसल जलमग्न हो गई है। इसकी जानकारी मिली है। किसान परेशान हैं। अभी तक कोई अफसर नहीं आया है। हर किसान को मुआवजा मिलना चाहिए। किसानों की मेहनत खराब हो गई है।

खबरें और भी हैं...