टूंडला में पेड़ पर लटका मिला छात्रा का शव:परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप, कोराना वैक्सीन लगवाने की बात कहकर घर से निकली थी

टूण्डला2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

थाना टूंडला क्षेत्र के गांव गढ़ी जाफर में शनिवार को नीम के पेड़ पर किशोरी का शव लटका मिला। वह घर से पास के ही गांव में कोरोना वैक्सीन लगवाने की बात कहकर निकली थी। स्वजनों ने हत्याकर शव पेड़ पर लटकाने का आरोप लगाया है।

शनिवार को ग्रामीणों ने मोहनलाल निवासी गढ़ी जाफर के खेत में खड़े नीम के पेड़ पर एक शव लटके होने की जानकारी दी थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव की पहचान कराने का प्रयास किया। शव की पहचान मुस्कान लोधी (13) पुत्री सतीशचंद्र लोधी के रूप में हुई।

मृतका के पिता ने बताया कि उनकी बेटी हमेशा लड़कों की तरह रहती थी। अधिकांश लोग उसे लड़का ही समझते थे। चार बेटियों में वह सबसे बड़ी थी और गांव के ही चिरौंजी छिदामीलाल इंटर कालेज में कक्षा नौ की छात्रा थी। शुक्रवार सुबह करीब आठ बजे वह घर से गांव डिवाइची अपनी दोस्त तुलसी के घर कोरोना की वैक्सीन लगवाने की कहकर गई थी। जिसके बाद वह घर वापस नहीं लौटी। सुबह उन्होंने पुत्री की गुमशुदगी दर्ज कराई थी। उनकी बेटी की हत्या की गई है। उनकी बेटी का परिवार में भी किसी से कोई विवाद नहीं था। वह मेहनत मजदूरी कर परिवार का पालन पोषण कर रहे हैं। उनकी बेटी इतनी दूर साइकिल से कैसे पहुंच गई। यह जांच का विषय है। उन्होंने अज्ञात के विरुद्ध थाना शिकोहाबाद में हत्या की तहरीर दी है। बेटी की मौत की खबर सुन मां विष्णु देवी व छोटी बहनों का रो-रोकर बुरा हाल है। इंस्पेक्टर राजेश पांडेय का कहना है कि शव की पहचान हो गई है। पंचायतनामा भरे जाने तक हम अंदर के कपड़े नहीं खोल सकते। जिसके चलते शव का लिंग जांचने में दिक्कतें हुई। मृतका का हुलिया बिल्कुल लड़कों की तरह था। मुस्कान के लड़काें की तरह रहने के कारण पुलिस ने भी उसके शव को किशोर मानते हुए पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया था। शव के पास साइकिल, बैग मिला था। जिसमें कुछ किताबें थी। किताबों पर मुस्कान नाम लिखा था। बैग से एक चांदी की अंगूठी भी पुलिस को मिली थी।

खबरें और भी हैं...