प्लाट के विवाद को लेकर दबंगों ने युवक को पीटा:गंभीर अवस्था में दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में चल रहा इलाज, पुलिस पर लगे आरोप

जेवर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रबूपुरा कोतवाली क्षेत्र के मेहंदीपुर गांव निवासी एक युवक और उसके पिता को जमीन के विवाद में पड़ोसी दबंगों ने लाठी डंडों से बेरहमी से पीटकर घायल कर दिया। इस घटना में बेटे को गंभीर चोटें आई हैं। जिसका पिछले कई दिनों से दिल्ली के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

पीड़ित परिवार का आरोप है कि पुलिस ने इस मामले में सामान्य धाराओं में आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया है। साथ ही आरोपियों की अभी गिरफ्तारी भी नहीं की। जिसकी शिकायत भी पीड़ित परिवार ने पुलिस विभाग के बड़े अधिकारियों से की है।

गुलबहार को मृत समझकर फेंककर जंगल में गए थे आरोपी

रबूपुरा कोतवाली क्षेत्र के मेहंदीपुर गांव निवासी चाहत ने रबूपुरा कोतवाली पुलिस को दी शिकायत में कहा था 23 फरवरी को गांव के ही करीब 5 लोगों ने उनके बेटे का घर से जबरन अपहरण किया था। जब पीड़ित पिता ने विरोध किया तो आरोपियों ने पिता-पुत्र के साथ बेरहमी से मारपीट करते हुए परिवार की महिलाओं से भी मारपीट की। इस घटना में चाहत के बेटे गुलबहार को गंभीर चोट आई है। जिसको आरोपी मृत समझकर गांव के जंगल में फेंक कर फरार हो गए थे। जिसको परिवार के लोगों ने जेवर के अस्पताल में भर्ती कराया।

जिला अस्पताल से दिल्ली के सफदरजंग रेफर

हालत को देखते हुए उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। लेकिन पिछले कई दिनों से उसकी हालत ज्यादा खराब हो गई जिसको देखते हुए जिला अस्पताल से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के लिए घायल को रेफर कर दिया गया। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। साथ ही लूटपाट की घटना को भी आरोपी पक्ष द्वारा अंजाम दिया गया है।

आरोपियों से जमीन का विवाद चल रहा

पीड़ित परिवार का कहना है कि आरोपियों से उनका जमीन का विवाद चला आ रहा है। जो कोर्ट में विचाराधीन है। उसके बावजूद भी आरोपी उनके प्लॉट पर कब्जा कर रहे थे। जब पीड़ित परिवार ने विरोध किया तो आरोपियों ने उन ऊपर जानलेवा हमला किया है।

पुलिस पर शिकायत बदलने का आरोप

पीड़ित परिवार ने इस मामले में 5 लोगों को नामजद करते हुए कोतवाली में शिकायत दी थी। अस्पताल में गंभीर अवस्था में एडमिट गुलज़ार के मामा अली शेर ने बताया कि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ पीड़ित की शिकायत को बदलकर सामान्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया था। जिसकी जानकारी पीड़ित परिवार को हुई तो उन्होंने पुलिस से शिकायत की तो कोतवाली से उनको फटकार लगाकर भगा दिया गया।

आरोपी पक्ष केस वापस करने की धमकी भी दे रहा

उनका आरोप है कि पीड़ित परिवार को आरोपी पक्ष केस वापस करने की धमकी भी दे रहा है। लेकिन पुलिस अभी तक नामजद आरोपी को गिरफ्तार भी नहीं कर पाई है। पुलिस द्वारा सामान्य धाराओं में जो केस दर्ज किया गया था। जिसको लेकर पीड़ित परिवार ने डीसीपी ग्रेटर नोएडा को भी शिकायत की है।

इस बारे में रबूपुरा कोतवाली प्रभारी सुधीर कुमार का कहना है कि पीड़ित परिवार की शिकायत के आधार पर ही केस दर्ज किया गया है। पुलिस इस मामले में 4 आरोपियों को गिरफ्तार भी कर चुकी है। पुलिस पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद है।

खबरें और भी हैं...