नोएडा के 25 सेक्टरों को मिलेगा गंगाजल:50 क्यूसेक की योजना में 37.50 क्यूसेक मिलेगा, 240 MLD मीठा जल की हो रही सप्लाई

नोएडा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नोएडा में 25 सेक्टरों के 5 लाख लोगों को दिसंबर-2022 तक गंगाजल की आपूर्ति की जा सकेगी। इसके लिए तृतीय चरण में 37.50 क्यूसेक गंगाजल (90 MLD) परियोजना पर कार्य किया जा रहा है। परियोजना से नोएडा को कुल 330 MLD गंगाजल की सप्लाई हो जाएगी। वर्तमान में 240 MLD गंगाजल की आपूर्ति की जा रही है। इसका 70 प्रतिशत काम पूरा किया जा चुका है। योजना की लागत 239.69 करोड़ लगाई गई थी।

शहर में गंगाजल की आपूर्ति प्रताप विहार प्लांट की जाती है। नोएडा प्राधिकरण व उप्र आवास विकास परिषद संयुक्त प्रयास है। योजना का मूर्हत रूप देने का काम यूपी जल निगम कर रहा है। दरअसल, यह योजना 50 क्यूसेक गंगाजल की है। जिसमें नोएडा का 75 प्रतिशत 37.50 क्यूसेक गंगाजल मिलेगा और यूपीएवीपी का 25 प्रतिशत 22.5 क्यूसेक गंगाजल की सप्लाई की जाएगी।

सेक्टर-65 स्थित गंगाजल का स्टोरेज प्लांट।
सेक्टर-65 स्थित गंगाजल का स्टोरेज प्लांट।

14 मार्च 2018 को योजना पर कार्य शुरू किया गया। दिसंबर 2021 तक इसे पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था। अब इसे बढ़ा दिया गया है। योजना की लागत 239.69 करोड़ लगाई गई थी। लेकिन बाद में रिवाइजड कर इसकी लागत 304.185 करोड़ रुपए की गई। अनुबंध 75 रेशियो 25 का है। ऐसे में नोएडा प्राधिकरण योजना पर 228.14 करोड़ रुपए खर्च कर रहा है। इस लागत में 135.16 करोड़ रुपए यूपी जल निगम को दिए जा रहे है। शेष 92.97 करोड़ रुपए एनएचएआई को दिए जा रहे हैं।

प्राधिकरण ने बताया कि यूपी जल निगम का कार्य प्राइमरी ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण करना, कच्चे पानी के लिए 7.8 किमी लंबाई में 1500 एमएम डाया की पीसीसीपी पाइन लाइन बिछाना है। 120 एमएलडी क्षमता का वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण भी शामिल है। वहीं, एनएचआई द्वारा 12.70 किमी की 1500 एमएम डाया एमएस पाइन लाइन बिछाने का है।

गंगाजल के लिए बनाया जा रहा रिजर्व वायर।
गंगाजल के लिए बनाया जा रहा रिजर्व वायर।

आइए जानते है कितना हो गया काम पूरा
वर्तमान में प्राइमरी ट्रीटमेंट का कार्य 100 प्रतिशत पूरा किया जा चुका हैं। 120 एमएलडी क्षमता का वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का कार्य भी अंतिम चरण मे है। 1500 एमएमडाया की 7.8 किमी लंबाई में पाइप बिछाने के का काम किया जा रहा है।

गंगाजल परियोजना पर किया जा रहा काम
गंगाजल परियोजना पर किया जा रहा काम

अब जानते है इस लाइन से किन सेक्टरों को मिलेगा फायदा

इस परियोजना से 25 सेक्टरों के लाखों लोगों को गंगाजल की आपूर्ति की जा सकेगी। इसमें सेक्टर-122,128,130,131,133,134,135,137,143,144,145,143बी,146,147,151,168,शामिल है। इन सेक्टरों में करीब 5 लाख लोग रहते है। साथ ही इनमें से कुछ सेक्टर औद्योगिक विकास के है।

खबरें और भी हैं...