ग्रेटर नोएडा में बीकेयू बलराज ने किया प्रदर्शन:भारतीय किसान यूनियन के नेताओं पर दबाव बनाकर फर्जी मुकदमे दर्ज करने का लगाया आरोप

ग्रेटर नोएडा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भारतीय किसान यूनियन बलराज के कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन किया। - Dainik Bhaskar
भारतीय किसान यूनियन बलराज के कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन किया।

ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर स्थित जिलाधिकारी कार्यालय पर शुक्रवार को भारतीय किसान यूनियन बलराज के कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन किया। इन्होंने भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट के नेताओं पर आरोप लगाया कि उन्होंने दबाव बनाकर हमारे नेताओं पर मुकदमे दर्ज कराए है। इसी मुद्दे को लेकर उनके द्वारा प्रदर्शन किया गया और एक ज्ञापन जिला अधिकारी के नाम सौंपा गया।

शुक्रवार को भारतीय किसान यूनियन बलराज के कार्यकर्ता इकट्ठा होकर सूरजपुर स्थित जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे ।यहां पहुंच कर इनके द्वारा जमकर नारेबाजी की गई और प्रदर्शन किया गया। उसके बाद एक ज्ञापन जिला अधिकारी के नाम उप जिलाधिकारी को सौंपा गया। एक 307 का मुकदमा दर्ज होने के बाद दो किसान यूनियन के नेता आमने सामने आ गए हैं।

भारतीय किसान यूनियन के मटरू नागर पर आरोप

भारतीय किसान यूनियन बलराज के जिला अध्यक्ष हातिम सिंह भाटी ने बताया कि भारतीय किसान यूनियन टिकट गुट के नेता लगातार पुलिस पर दबाव बनाते हैं और हमारे गुट के नेताओं पर मुकदमा दर्ज करा रहे हैं। इसको लेकर पहले भी हम अधिकारियों से मिल चुके हैं ।जिन्होंने आश्वासन तो दिया था लेकिन कुछ समाधान नहीं हुआ है।

फर्जी मुकदमा दर्ज करने का लगाया आरोप

उन्होंने बताया कि भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट के मटरू नागर ने दबाव बनाकर हमारे नेता नवीन भाटी पर थाना सेक्टर 142 में फर्जी मुकदमा दर्ज करा दिया है । उन्होंने बताया कि नवीन भाटी के खिलाफ 307 का एक फर्जी मुकदमा दर्ज कराया गया था। अब इस मामले में दबाव बनाकर गुंडा एक्ट की कार्रवाई करने की मांग की जा रही है लेकिन यह पूरा मामला फर्जी है।

उप जिलाधिकारी को जिलाधिकारी के नाम सौंपा गया ज्ञापन।
उप जिलाधिकारी को जिलाधिकारी के नाम सौंपा गया ज्ञापन।

डीएम से की निष्पक्ष जांच की मांग

इन लोगों के द्वारा उप जिलाधिकारी को जिलाधिकारी के नाम एक ज्ञापन सौंपा गया और पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की गई साथ ही कहा गया कि जो फर्जी मुकदमा लगाया गया है। उसे वापस लिया जाए।इन लोगों के द्वारा 19 सितंबर से अनिश्चितकालीन धरना भी दिया जाएगा।