भाजपा नेता की बदतमीजी का देखें VIDEO:ग्रेटर नोएडा के थाने में किया बवाल, बोले - इंस्पेक्टर तुम्हारा दिमाग ठीक नहीं है, गाली भी दी

ग्रेटर नोएडा3 महीने पहले

ग्रेटर नोएडा में पुलिस थाने में भाजपा नेता की बदतमीजी का VIDEO सामने आया है। भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष राज नागर शहर के बीटा-2 थाने में युवकों को लेकर घुस गए। वह महिला पुलिसकर्मियों के सामने गाली दे रहे हैं। जब पुलिसकर्मी ने विरोध किया तो बोले, 'इंस्पेक्टर तुम्हारा दिमाग ठीक नहीं है।'

मामले में जिलाध्यक्ष पर आरोप है कि वह रोडरेज के आरोपी युवक को थाने से छुड़ा कर ले गए। दूसरी ओर जिलाध्यक्ष राज नागर ने इन सारे आरोपों को झूठा बताया है। उनका कहना है कि पुलिस ने उनके पदाधिकारी को अवैध हिरासत में रखा था।

खबर में आगे बढ़ने से पहले पोल में हिस्सा ले सकते हैं...

मंडल अध्यक्ष को छुड़ाने पहुंचे थाने
सेक्टर बीटा-2 कोतवाली से मिली जानकारी के मुताबिक, राज नागर भाजपा युवा मोर्चा के सूरजपुर मंडल अध्यक्ष अतुल गुर्जर को छुड़वाने कई युवकों के साथ थाने पहुंचे। थाने में जाकर अपने साथी को छोड़ने के लिए कहा। पुलिस ने कहा कि रोडरेज के एक मामले में जांच की जा रही है।

अगर यह व्यक्ति घटना में शामिल नहीं पाया गया तो पुलिस इसको छोड़ देगी। फिलहाल पुलिस पूछताछ कर रही है। इस बात पर राज नागर आक्रोशित हो गए और वहां खड़ी महिला पुलिसकर्मियों के सामने दूसरे पुलिसकर्मी को गाली दी।

थाने में महिला पुलिसकर्मियों के सामने भाजपा नेता राज नागर ने कांस्टेबल से गाली-गलौज की।
थाने में महिला पुलिसकर्मियों के सामने भाजपा नेता राज नागर ने कांस्टेबल से गाली-गलौज की।

गाली का पुलिसकर्मी ने किया विरोध
पुलिसकर्मियों का कहना है कि भाजपा नेता ने अपनी दबंगई दिखाने के लिए खुद अपने साथी से वीडियो बनवाया था। जब राज नागर गाली-गलौज कर रहा था तो उसके साथी ने पूरा वीडियो बनाया और जिले में रौब दिखाने के लिए सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

योगीराज को खुद कर रहे बदनाम
लोग सोशल मीडिया पर लिख रहे हैं कि एक तरफ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य की कानून-व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं, दूसरी तरफ खुद भाजपा नेता पलीता लगाने में जुटे हैं।

आपको बता दें कि पिछले सप्ताह खुद CM ने ऐसे मामलों में व्यवस्था बनाई है। आदेश दिया है कि पुलिस और प्रशासन से कोर ग्रुप बात करेगा। इसमें पार्टी का जिलाध्यक्ष, सांसद, विधायक और जिला प्रभारी मंत्री रहेंगे।

राज नागर की अभद्रता का वीडियो भी उनके समर्थक बना रहे थे। रौब झाड़ने के चक्कर में उन्होंने वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।
राज नागर की अभद्रता का वीडियो भी उनके समर्थक बना रहे थे। रौब झाड़ने के चक्कर में उन्होंने वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

पुलिस कमिश्नर का फोन आया था
इस मामले में राज नागर का कहना है, उन्होंने पुलिसकर्मियों के साथ नहीं बल्कि पुलिसकर्मियों ने हमारे साथ बदतमीजी की है। उन्होंने कहा, सुबह मेरे पास पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह का फोन आया था। उन्होंने मुझसे कहा कि इसमें पुलिसकर्मियों की गलती है। हम उनके खिलाफ एक्शन लेंगे।

राज नागर ने आगे कहा, ADCP विशाल पांडे ने मुझसे कहा कि इसमें पुलिस वालों की गलती है- 'मैं पुलिस की गलती को स्वीकार करता हूं और माफी मांगता हूं'। दरअसल, पुलिस ने हमारे मंडल अध्यक्ष को गलत ढंग से 3 घंटे अवैध हिरासत में रखा था। मैं उसे छुड़ाने के लिए थाने में गया था।

खबरें और भी हैं...