ग्रेटर नोएडा में स्कूलों के खिलाफ थाने में शिकायत:अभिभावकों ने स्कूलों पर धोखाधड़ी करने व घोटाला करने का लगाया आरोप

ग्रेटर नोएडा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
करप्शन फ्री इंडिया संगठन एवं किसान संघर्ष समिति के बैनर तले स्कूलों के खिलाफ दिया गया प्रार्थना पत्र। - Dainik Bhaskar
करप्शन फ्री इंडिया संगठन एवं किसान संघर्ष समिति के बैनर तले स्कूलों के खिलाफ दिया गया प्रार्थना पत्र।

ग्रेटर नोएडा के बीटा 2 थाने में अभिभावकों ने करप्शन फ्री इंडिया संगठन और किसान संघर्ष समिति के बैनर तले रेयान स्कूल, सैंट मार्टिन एवं मनोरंजन नर्सरी स्कूल पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराने के लिए प्रार्थना पत्र दिया।

इन लोगों ने बताया की सेक्टर बीटा 1 स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों से दाखिले एवं ट्यूशन फीस में 50% छूट देने के नाम पर लूट एवं धोखाधड़ी की है, जिसके विरोध में अभिभावक लगातार पिछले 2 महीनों से जिलाधिकारी एवं जिला विद्यालय निरीक्षक के चक्कर काट रहे हैं इसके बाद कोई भी कार्यवाही नहीं हुई।

करप्शन फ्री इंडिया संगठन के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय एवं किसान नेता सुनील फौजी ने कहां की रेयान इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों के साथ दाखिल एवं ट्यूशन फीस के नाम पर 50% छूट देने के बात कही थी लेकिन बाद में मना कर दिया गया। स्कूल ने 100% फीस जमा करने के लिए बोल दिया । काफी अभिभावक 50 % छूट के बाद फीस जमा कर चुके थे, अब उन्हें भी परेशान किया जा रहा है।

निष्पक्ष जांच हुई तो घोटाला आएगा सामने
चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि रियान इंटरनेशनल स्कूल के प्रधानाचार्य एवं स्टाफ के कहने पर सैंट मार्टिन एवं मनोरंजन नर्सरी स्कूल ने प्रमाण पत्र की एवज में अभिभावकों से 70000 रुपए तक लिए हैं। इन तीनों स्कूलों ने मिलकर सैकड़ों अभिभावकों के साथ धोखाधड़ी लूट एवं भ्रष्टाचार किया है। अभिभावक अंकित त्यागी ने इस प्रकरण की निष्पक्ष जांच मांग करते हुए कहा कि इन स्कूलों का बड़ा घोटाला उजागर होगा।

क्या है पूरा मामला
चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि रेयान स्कूल में 50 % छूट के नाम पर छात्रों के एडमिशन किये थे लेकिन उसके लिए सैंट मार्टिन एवं मनोरंजन नर्सरी स्कूल ने प्रमाण पत्र लाना होगा। अभिभावकों ने बताया की उस प्रमाण पत्र की एवज में सभी अभिभावकों से पैसे लिए गए। इस दौरान 30 हज़ार से 70 हज़ार रूपए तक लिए गए। बच्चो के एडमिशन 50 % की छूट पर हो गए लेकिन दो माह बाद ही रेयान स्कुल ने छूट को खत्म कर दिया और बच्चों से पूरी फीस मांगी जाने लगी। करीब 300 ऐसे छात्र है जो इस समस्या से झूझ रहे है।

कार्रवाई नहीं हुई तो स्कूल के गेट पर करेंगे आंदोलन
अभिभावक सुंदर प्रजापति ने कहा कि हम अधिकारियों के चक्कर लगाकर थक चुके हैं रेयान स्कूल ने हम लोगों के साथ धोखाधड़ी की है। जिसका हमने मुकदमा दर्ज कराने के लिए थाने में पत्र दिया है अगर जल्द इस प्रकरण में कार्यवाही नहीं हुई तो सभी अभिभावक एवं संगठन के कार्यकर्ता मिलकर रेयान इंटरनेशनल स्कूल के मुख्य द्वार पर आंदोलन करेंगे जिसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।

खबरें और भी हैं...