नोएडा को यूपी का IT हब बनाने की तैयारी:अडानी से माइक्रोसॉफ्ट तक करीब 700 IT कंपनियां कर रहीं निवेश; डेढ़ लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

नोएडाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नोएडा आने वाले 5 सालों में राज्य का सबसे बड़ा IT हब बनने जा रहा है। यहां 700 से ज्यादा IT और ITES (इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी इनैबल्ड सर्विसेज) कंपनियां निवेश कर रही है। इनको जमीन आवंटित की चुकी है। सीधे तौर पर इससे करीब डेढ़ लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। प्राधिकरण ने अडानी इंटरप्राइजेज लि. को विश्व स्तरीय डाटा सेंटर बनाने के लिए जमीन आवंटित की है। कंपनी इसमें 2400 करोड़ रुपए का निवेश कर विश्व स्तरीय डाटा सेंटर बना रही है। इससे 1350 व्यक्तियों को रोजगार मिलेगा। इस निवेश से प्राधिकरण को सीधे तौर पर 103.41 करोड़ रुपए मिलेगा। वहीं, MAQ इंडिया प्रा. लि सेक्टर-145 में 250 करोड़ रुपए का निवेश करने की तैयारी में है।

772 नई IT कंपनी लगाएंगी अपना सेटअप
देश और विदेश की 772 IT व ITES कंपनियां आगामी तीन से चार सालों में नोएडा में अपना सेटअप लगा लेंगी। इन सभी को नोएडा में जमीनों का आवंटन हो चुका है। इससे 810 करोड़ रुपये का निवेश मिला। इसके अलावा 85 बड़ी कंपनियां भी है। ये बड़े सेटअप के साथ बड़ा रोजगार देंगी। कंपनियां 22 हजार 400 करोड़ रुपये का निवेश करेंगी। इनसे एक लाख 52 हजार के आसपास लोगों को रोजगार मिलेगा।

नोएडा व्याापारिक और आर्थिक गतिविधियों का बड़ा केंद्र है। NCR के पूरे इलाके में हजारों लोग यहां रोजाना काम करने आते हैं।
नोएडा व्याापारिक और आर्थिक गतिविधियों का बड़ा केंद्र है। NCR के पूरे इलाके में हजारों लोग यहां रोजाना काम करने आते हैं।

निवेश करने वाली कंपनियां

  • सैमसंग डिस्प्ले नोएडा
  • वन97 कम्युनिकेशन लि.
  • मदरसन ग्रुप
  • कैंट आरओ सिस्टम लि.
  • हल्दीराम स्नैक्स प्रा.लि.
  • आइकिओ सोल्यूशन प्रा लि.
  • अडानी इंटरप्राइजेज
  • रोटो पंप्स लि.
  • डिक्सन टेक्नोलॉजी
  • माइक्रोसॉफ्ट इंडिया प्रा. लि

इनको मिलेगा फायदा
नोएडा, ग्रेटर नोएडा, सिंकदराबाद, गाजियाबाद, मेरठ, बुलंदशहर और दिल्ली के लोगों को इसका फायदा मिलेगा। वर्तमान में भी नोएडा औद्योगिक हब है और यहां हर दिन लाखों लोग नौकरी करने के लिए इन्हीं इलाकों से आते हैं।

यह है निवेश की स्थिति

  • कुल 867 भूखंड का आवंटन
  • आवंटित जमीन 2089435 वर्ग मीटर
  • संभावित निवेश 23 हजार 285 करोड़
  • संभावित रोजगार 1 लाख 52 हजार 553