टि्वन टावर ध्वस्तीकरण को लेकर 17 मई को सुनवाई:​​​​​​​बिल्डर की ओर से 3 महीने का मांगा गया एक्सटेंशन; सुप्रीम कोर्ट ने 31 अगस्त को टावर गिराने के दिए थे आदेश

नोएडाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ट्विन टावर अभी तक 22 मई को गिराए जाने के लिए प्रस्तावित हैं। लेकिन मौके पर काम बचा हुआ है। ऐसे में, अब टावर कब गिरेंगे? ये 17 मई को तय होगा। बिल्डर की ओर से 3 महीने का अतिरिक्त समय मांगते हुए सुप्रीम में अर्जी लगाई हुई है। जिस पर सुनवाई होनी है।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर ट्विन टावर गिराए जाने की तैयारी चल रही है। न्यायालय ने 31 अगस्त 2021 को तीन महीने के अंदर यानी 30 नवंबर तक गिराने का आदेश दिया था। जो हो नहीं सका। इसके बाद न्यायालय के आदेश पर ही नोएडा प्राधिकरण ने 20 फरवरी से काम शुरू कराकर टावर गिराए जाने के लिए 22 मई की तारीख तय की थी। इसकी जानकारी न्यायालय में भी दे दी गई थी। अब इसका जिम्मा संभाल रही एडीफिस एजेंसी 22 मई को टावर गिराने से पीछे हट रही है।

इन्हीं टावरों को गिराने की तैयारी चल रही है।
इन्हीं टावरों को गिराने की तैयारी चल रही है।

प्राधिकरण डिमांड को कर चुका है खारिज
इसके लिए एजेंसी व सुपरटेक बिल्डर ने नोएडा प्राधिकरण से टावर गिराने के लिए तीन महीने का और समय मांगा था। जिसको प्राधिकरण ने खारिज कर दिया। साथ ही स्पष्ट कहा कि वह समय बढ़ाने के पक्ष में बिल्कुल नहीं है। इसके बाद बिल्डर ने अतिरिक्त तीन महीने का और समय लेने के लिए उच्चतम न्यायालय में अर्जी लगा दी है। इस पर अब 17 मई को सुनवाई होनी है।

टावरों में तोड़फोड़ काम जारी
उच्चतम न्यायालय से अतिरिक्त समय मिलेगा या नहीं, यह तो 17 मई को पता चलेगा लेकिन इस मामले में एजेंसी की ओर से तैयार किए गए एक्शन प्लान पर सवाल जरूर खड़े हो रहे हैं। वहीं दूसरी ओर टावर तोड़े जाने के लिए शनिवार को भी टावरों में तोड़फोड़ का काम चलता रहा।

खबरें और भी हैं...