नोएडा में 3448 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण:मिनी स्टेडियम और अंडरपास की सौगात, आज या कल होगा ट्रायल

नोएडा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नवंबर के पहले सप्ताह में प्राधिकरण 183.66 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकापर्ण करेगा। - Dainik Bhaskar
नवंबर के पहले सप्ताह में प्राधिकरण 183.66 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकापर्ण करेगा।

नोएडा में नवंबर के पहले सप्ताह में प्राधिकरण 183.66 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकापर्ण करेगा। इन परियोजनाओं में खेल प्रतिभा को बढ़ाने के लिए सर्फाबाद में मिनी स्टेडियम, यातायात को जाम मुक्त बनाने के लिए अंडरपास के अलावा सेक्टर विकास, हरियाली व नोएडा के प्रवेश द्बार शामिल है। इन सभी का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। फिनिशिंग का कार्य किया जा रहा है।

बता दें अप्रैल 2017 से अब तक प्रधिकरण की 13 हजार 721 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। 3144 करोड़ की परियोजनाओं का कार्य प्रगतिरत है और 1100 करोड़ की परियोजनाओं प्रस्तावित ही। इनका जल्द कार्य शुरू किया जाएगा।

सर्फाबाद में मिनी स्टेडियम का काम पूरा कर लिया गया है।
सर्फाबाद में मिनी स्टेडियम का काम पूरा कर लिया गया है।

इन परियोजनाओं का किया जाएगा लोकार्पण

नवंबर में 183.66 करोड़ की लागत से छह परियोजनाओं का लोकापर्ण किया जाएगा। इनमें औद्योगिक सेक्टर-145,151,158 का विकास 39.59 करोड़ की लागत से, सेक्टर-51,52,71,72 क्रासिग अंडरपास का शुभारंभ 59.33 करोड़, मिनी स्टेडियम 54.16 करोड़, सेक्टर-117 में मास्टर ग्रीन बेल्ट 23.99 करोड़, नोएडा ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे पर नोएडा प्रवेश द्बार 4.99 करोड़ व सेक्टर-157 व 159 के मध्य नोएडा का प्रवेश द्बार 1.6 करोड़ की परियोजनाएं शामिल है।

वहीं, 463 करोड़ की लागत से सेक्टर-82 सिटी बस टर्मिनल का निर्माण, एक्सप्रेस-वे की रि-सर्फेसिग, तीन स्थानाें पर अंडरपास, कालिदी कुंज प्रवेश द्बार, गौवंश आश्रय स्थल का कार्य 31 दिसंबर 2021 तक पूरा कर लिया जाएगा।

552 करोड़ की लागत से बन रहे दो एसटीपी

जनवरी 2022 में 552 करोड़ की लागत से दो नए एसटीपी, 50 क्यूसेक गंगा जल परियोजना, आईटीएमएस परियोजना का कार्य पूरा किया जा सकता है। इसके अलावा 1154 करोड़ की दो एलिवेटड एवं एक फ्लाईओवर का निर्माण किया जा रहा है। 1096 करोड़ की लागत से हैबिटेट सेंटर, गोल्फ कोर्स व हैलीपोर्ट का निर्माण के साथ मुख्य प्रशासनिक भवन का कार्य भी किया जा रहा है।