नोएडा में कोरोना के मामले 10 हजार के पार:यूपी में सबसे ज्यादा केस नोएडा में, एक्टिव मरीजों की संख्या हुई 10,718

नोएडा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश में कोरोना के 10 हजार से ज्यादा सक्रिय मामलों में नोएडा प्रदेश में पहला शहर बन चुका है। विगत 24 घंटों में यहां 1,626 नए मामले सामने आए हैं। सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 10,718 हो गई है। इनमें से अधिकांश में सिम्टम्स माइल्ड है। जिनको होम आइसोलेशन दिया गया है। गनीमत यह है कि तीसरी लहर में अभी तक किसी की मौत नहीं हुई है। वहीं ओमिक्रॉन का एक मामला भी सामने आया है।

जनपद के स्वास्थ्य विभाग में कोरोना विस्फोट

जिला स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. ललित कुमार सबसे पहले संक्रमित हुए। एहतियात के तौर पर सीएमओ ने भी कोरोना की जांच कराई तो वह भी पॉजिटिव निकले। हालांकि उनके अंदर सिम्टम्स माइल हैं। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग में 15 स्वास्थ्य कर्मी। जिम्स में 30 से अधिक शारदा अस्पताल में 40 से अधिक, जिला चिकित्सालय के 4 डॉक्टर, एक स्वास्थ्य कर्मी समेत विभिन्न निजी अस्पतालों के 100 से ज्यादा डॉक्टर संक्रमित हो चुके हैं।

चाइल्ड पीजीआई में 8 बच्चों को किया गया भर्ती

इस लहर में कोरोना ने बच्चों के ऊपर भी असर डालना शुरू कर दिया है। अब तक 8 बच्चों को चाइल्ड पीजीआई में भर्ती किया गया है। डॉक्टरों का कहना है कि इनमें भी सिम्टम्स नहीं हैं, लेकिन रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर एहतियात के तौर पर इन्हें भर्ती किया गया है।

तेजी से बढ़ रहा है मामले

डेटकितने मामले आएसक्रिय मामले
8 जनवरी1,1413,527
9 जनवरी1,1504,613
10 जनवरी1,2225,780
11 जनवरी1,6807,335
12 जनवरी19929300
13 जनवरी1,62610,718

जिला प्रशासन जारी कर सकता है नई गाइडलाइन

पहले एक हजार केस पर जिला प्रशासन ने जनपद में नई गाइडलाइन जारी की थी। ऐसे में अब प्रदेश में सर्वाधिक 10,000 से ज्यादा मामले जनपद में आ चुके हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि जिला प्रशासन जल्द ही नई गाइडलाइन जारी करेगा। साथ ही नियमों को सख्त करेगा।