नोएडा में आईटी कंपनियों में चोरी करने वाले 5 गिरफ्तार:ऑन डिमांड लैपटॉप और इलेक्ट्रनिक गैजेट करते चोरी फिर कबाड़ी को बेचते थे

नोएडा3 महीने पहले
ये फोटो गिरफ्तार चोरों की है। पुलिस ने सभी को जेल भेज दिया है।

नोएडा पुलिस ने ऑन डिमांड लैपटॉप और इलेक्ट्रानिक गैजेट चोरी करने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है। ये चोर आईटी कंपनी को टारगेट करते थे। शुरू के पांच दिन कंपनी की रैकी करते थे और ऑफ वाले दिन चोरी करते थे।

एडीसीपी अंकिता शर्मा ने बताया कि चोरी किए गए लैपटॉप और इलेक्ट्रानिक गैजेट कबाड़ियों को बेचते थे। स्टूडेंट की डिमांड आने पर कबाड़ी उनको मोटी कीमत पर बेचते थे। इन पैसों में कुछ पैसा कबाड़ी और बाकी ये अपने पास रखते और इसका प्रयोग सिर्फ मौज मस्ती और अपने शौक पूरा करने के लिए करते थे। इनके पास से 22 लैपटॉप और 8 हजार कैश मिला है।

इन शातिर चोरों को गिरफ्तार किया गया है।
इन शातिर चोरों को गिरफ्तार किया गया है।

अधिकतर ये पैसे मॉल में शॉपिंग और शराब के खपाते थे। पैसा खत्म होने के साथ फिर चोरी की घटना करते थे। एडीसीपी ने बताया कि पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली गिरोह के लोग चोरी के मॉल के साथ सेक्टर-62 गोल चक्कर से होते हुए सेक्टर-63 जाने वाले है।

पुलिस ने सादे कपड़ों में घेराबंदी की और गिरोह के पांच लोगों को गिरफ्तार किया। इनकी पहचान विकास निवासी नोएडा , वसीम निवासी दिल्ली, दनिश निवासी दिल्ली, आदिल निवासी बागपत और सुहेल निवासी दिल्ली हुई है।

एडीसीपी अंकिता शर्मा ने चोरों के गैंग का खुलासा किया है।
एडीसीपी अंकिता शर्मा ने चोरों के गैंग का खुलासा किया है।

वसीम पर दर्ज है 15 मुकदमें
एडीसीपी ने बताया कि वसीम पर 15 मुकदमे दर्ज है। इसने अधिकांश फेज-2 और सेक्टर-20 इंडस्ट्रियल जोन फेज-1 स्थित कंपनी में ही चोरी की घटना को अंजाम दिया है। पुलिस इन सभी का आपराधिक रिकार्ड खंगाल रही है।

खबरें और भी हैं...