नोएडा में इंटरनेशनल टेलीफोन एक्सचेंज पकड़ा:ATS की कार्रवाई में एक गिरफ्तार, विदेश से आने वाली कॉल लोकल में बदलकर हो रही थी ट्रांसफर

गाजियाबाद19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
यूपी एटीएस ने नोएडा के फेस-3 थाना क्षेत्र में एक अवैध टेलीफोन एक्सचेंज पकड़ा है। इसमें एक आरोपी की गिरफ्तारी भी हुई है। - Dainik Bhaskar
यूपी एटीएस ने नोएडा के फेस-3 थाना क्षेत्र में एक अवैध टेलीफोन एक्सचेंज पकड़ा है। इसमें एक आरोपी की गिरफ्तारी भी हुई है।

यूपी एटीएस और नोएडा पुलिस ने अवैध रूप से चल रहे अंतरराष्ट्रीय स्तर के टेलीफोन एक्सचेंज का बुधवार रात पर्दाफाश किया है। एक आरोपी गिरफ्तार है और दो लोग फरार हैं। विदेश से आने वाली कॉल को लोकल में बदलकर संबंधित व्यक्ति को ट्रांसफर की जा रही थी। इससे टेलीकॉम विभाग को लाखों-करोड़ों रुपए का चूना लग रहा था। टाटा टेली सर्विसेज लिमिटेड के अधिकारियों को इस अवैध एक्सचेंज सेंटर के बारे में पता चला तो उन्होंने नोएडा पुलिस को इसकी खबर दी। मामला देशविरोधी गतिविधियों से भी जुड़ा हो सकता था, इसलिए यूपी एटीएस की टीम भी जांच-पड़ताल में जुट गई। बुधवार रात यूपी एटीएस और नोएडा पुलिस ने नोएडा के सेक्टर-63 में कॉल एक्सचेंज सेंटर पकड़ लिया।

यहां से बिट्टू कुमार निवासी बिहार की गिरफ्तारी हुई है। फिलहाल बिट्टू नोएडा के सेक्टर-45 सदरपुर में रह रहा था। दो अन्य लोग हारून ठेकेदार व एक अन्य मौके पर नहीं मिल पाए। पता चला कि हारून इसी तरह का एक्सचेंज दूसरे ठिकाने से भी चला रहा है।
इस पूरे मामले में नोएडा के थाना फेस-3 में भारतीय टेलीग्राफ अधिनियम की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। आज गुरुवार में आरोपी बिट्टू को स्थानीय अदालत में पेश किया जाएगा।
गुजरात के सुलेमान ने लिया था कनेक्शन
पुलिस ने बताया कि गुजरात के वडोदरा निवासी सुलेमान राशिद अली के नाम से आईटी कंपनी का कॉल सेंटर खोलने के लिए टाटा टेली सर्विसेज ने कनेक्शन दिया था। इसमें छेड़छाड़ करके अवैध रूप से विदेशी कॉल को लोकल कॉल में एक्सचेंज करके भारत में ट्रांसफर किया जा रहा था। विदेशी कॉल की इनकमिंग के रूप में टेलीकॉम कंपनी को जो आमदनी होनी चाहिए थी, वह नहीं हो पा रही थी।