नोएडा में रेस्टोरेंट मालिक की सिर में गोली मारकर हत्या:SWIGGY ब्वॉय से ऑर्डर में देरी से रेस्टोरेंट मालिक का हो रहा था झगड़ा, बगल में खड़े बदमाशों ने मार दी गोली; 15 घंटे बाद पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार

नोएडा3 महीने पहले
सुनील झमझम के नाम से रेस्टोरेंट चलाता था। रेस्टोरेंट के बाहर लगी जाली के बाहर से ही उसे गोली मारी गई।

दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में मंगलवार देर रात एक रेस्टोरेंट मालिक की सिर में गोली मारकर हत्या कर दी गई। शुरूआती दौर में पुलिस द्वारा बताया गया कि फूड डिलीवरी कंपनी स्विगी (SWIGGY) के डिलीवरी ब्वॉय से विवाद की खाने का ऑर्डर जल्दी पैक कराने को लेकर हुआ था। जिसके बाद डिलीवरी ब्वॉय ने रेस्टोरेंट मालिक को गोली मार दी। हालांकि, दोपहर बीतते बीतते मामला ही बदल गया जब पुलिस मुठभेड़ में बदमाश ने राज खोले। दरअसल, मर्डर करने वाला डिलीवरी ब्वॉय नहीं बल्कि तीन अन्य बदमाश थे। जिन्होंने नशे में गोली चला दी थी।

क्या हुआ था रात को ?

पुलिस मुठभेड़ में घायल बदमाश विकास चौधरी ने बताया कि हम लोग स्वर्ण नगरी से (जहां पर किराए के मकान में रहते है।) सेक्टर 59 जाने के लिए निकले थे। रास्ते में मित्रा सोसाइटी के पास स्विगी और जोमैटो के कुछ राइडर खड़े थे। जिनको देखकर हम लोग खाने के बारे में उनसे पूछने लगे। इसी बीच रेस्टोरेंट के नौकर से स्विगी के राइडर की बहस हो रही थी। जिस पर हम लोग भी शराब के नशे में होने के कारण वहां चले गए। वहा नौकर से कहासुनी के बीच गाली-गलौच हो गई। तब उसने अपने मालिक को बुलाया। मालिक से भी हमारी कहा-सुनी हो गई। जिस पर शराब के नशे में हम लोगों ने उसे गोली मार दी और फिर सेक्टर 59 की ओर भाग गए।

घटनास्थल से कुछ दूरी पर हुई मुठभेड़

आज दोपहर थाना बीटा-2 पुलिस और बाइक सवार बदमाशों के बीच मित्रा सोसाइटी के पीछे सर्विस रोड के पास पुलिस मुठभेड़ हो गयी। इस दौरान एक बदमाश विकास चौधरी निवासी अनूपशहर, बुलंदशहर को पुलिस द्वारा आत्मरक्षार्थ के लिए चलाई गयी गोली पैर में लगने के कारण घायल अवस्था में व 02 अन्य बदमाशों देवेंद्र निवासी अनूपशहर, बुलंदशहर व सुनील निवासी अनूपशहर, बुलंदशहर को पीछा करके गिरफ्तार किया गया है। बदमाशों के कब्जे से हत्या में प्रयुक्त 01 पिस्टल मय कारतूस, मोटरसाइकिल, 02 तमंचे मय कारतूस बरामद किये गये हैं। घायल बदमाश को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है। तीनों बदमाशों ने विगत रात्रि को सुनील अग्रवाल से झड़प होने पर उनको पिस्टल से गोली मार दी थी। जिसमें इलाज के दौरान सुनील अग्रवाल की मृत्यु हो गई थी।

पुलिस मुठभेड़ में घायल बदमाश।
पुलिस मुठभेड़ में घायल बदमाश।

दुसरे के झगड़े में कूद पड़े बदमाश

ग्रेटर नोएडा के कोतवाली बीटा-2 क्षेत्र की मित्रा सोसाइटी सुनील झमझम किचन के नाम से रेस्टोरेंट चलाता था। मंगलवार देर रात करीब 12:15 बजे के आसपास रेस्टोरेंट में स्विगी का डिलीवरी ब्वॉय पहुंचा। उसने चिकन बिरयानी और पूड़ी सब्जी का ऑर्डर मांगा। रेस्टोरेंट में काम करने वाले वेटर नारायण ने चिकन-बिरयानी का ऑर्डर उसे दे दिया गया, जबकि पूड़ी-सब्जी के ऑर्डर पैक करने में कुछ समय लगने की बात कही।

ऑर्डर में देरी की बात को लेकर स्विगी डिलीवरी ब्वॉय की वेटर नारायण से बहस शुरू हो गई। बहस बढ़ते हए गाली-गलौज तक पहुंच गई। बदमाश भी लड़ाई झगड़ा देख रहे थे। तेज आवाज सुनकर रेस्टोरेंट मालिक सुनील भी मौके पर आ गया। वह दोनों के बीच विवाद खत्म करने का प्रयास करने लगा। इसी दौरान बदमाश भी मालिक सुनील से लड़ पड़े और उसके सिर में गोली मार दी।

जाली के बाहर से मारी गोली
सुनील सिंघल ग्रेटर नोएडा के हल्दौनी के रहने वाले थे। पत्नी और दो बच्चों के साथ पूरा परिवार अभी दादरी में रहता था। डिलीवरी ब्वॉय सोसाइटी के बाहर से ही जाल के ऊपर से ऑर्डर लेते थे और चले जाते थे। रात भी बाहर से ऑर्डर लिया जा रहा था। इसमे विवाद हुआ और जाली के पास आए सुनील को बाहर से गोली मार दी।

खबरें और भी हैं...