नोएडा में ठगी करने वाले 3 गिरफ्तार:नौकरी का झांसा देकर करते थे ठगी, बेरोजगारों को बनाते हैं शिकार

नोएडाएक महीने पहले
ये फोटो तीन गिरफ्तार आरोपियों की है। पुलिस ने सभी को जेल भेज दिया है।

नोएडा पुलिस ने नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। ये लोग पहले बेरोजगार लोगों का डाटा निकालते थे फिर फोन कर नौकरी का झांसा देते थे। डाक्यूमेंटेशन पूरा करने और प्रोसेसिंग फीस के रूप में हजारों रुपए ले लेते थे।

इसके बाद फोन स्वीच ऑफ कर लेते थे। इनके खिलाफ आईटीएक्ट थाना साइबर क्राइम जिला तिरूनेलवेली तमिलनाडू में भी दर्ज है। लगातार मिल रही शिकायतों के बाद पुलिस ने इनके फोन नंबरों के आधार पर इनको ट्रैक करना शुरू किया। इसके बाद इनकी गिरफ्तारी की गई।

ये सामान हुआ बरामद
बताया गया कि ये लोग दर्जनों युवाओं से ठगी कर चुके है। इनके पास से कब्जे से 02 लैपटॉप, 13 मोबाइल, 27 सिम कार्ड, 01 स्विफ्ट कार एवं संबंधित कागजातों की फोटो कांपी, विभिन्न बैक एकाउंट स्टेटमेंट, ऑफर लेटर , फर्जी दस्तावेज कुल 97 वर्क मिले है।
बरामद की गई है।

तीन आरोपियों को किया गया गिरफ्तार
पुलिस ने इनकी पहचान छोटू पुत्र जाटू साहनी निवासी समस्तीपुर बिहार, आकाश पुत्र शिवपाल सिंह निवासी छिबराऊमऊ जिला कन्नौज, प्रवीण अर्नब पुत्र प्रमोद मिश्रा निवासी शाहजहांपुर के रूप में हुई है। तीनों नोएडा में रह रहे थे। इन तीनों को केंद्रीय विहार गोल चक्कर के पास सेक्टर-50 से गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस खंगाल रही आपराधिक रिकॉर्ड
पुलिस ने बताया कि इनका आपराधिक रिकार्ड खंगाला जा रहा है। साथ ही इनके द्वारा जिन लोगों को ठगा गया है उनसे संपर्क किया जा रहा है। यही नहीं साइबर सेल के जरिए पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि इन लोगों को डाटा कहां से मिला है।

खबरें और भी हैं...