ग्रेटर नोएडा में वाहन चोर गिरफ्तार:चोरी करने के बाद दो पहिया वाहनों को झाड़ियों के नीचे छुपा कर ग्राहकों का करता था इंतजार, सात चोरी के वाहन बरामद

ग्रेटर नोएडा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्रेटर नोएडा की बीटा 2 थाना पुलिस ने एक अंतरराज्यीय वाहन चोर को गिरफ्तार किया है।इसके कब्जे से चोरी की चार मोटरसाइकिल व तीन स्कूटी और एक अवैध तमंचा और दो जिन्दा कारतूस भी बरामद किए। बताया जा रहा है यह बहुत ही शातिर किस्म का वाहन चोर है जोकि रैकी करके दो पहिया वाहनों को मौका पाते ही चोरी कर लेता था।कम दामों में वाहनों को बेच दिया करता था।

बीटा 2 थाना पुलिस एक बड़े ही शातिर वाहन चोर को गिरफ्तार किया है। यह वाहन चोर बड़े ही शातिर तरीके से चोरी को वाहनों को छुपाया करता था। बीटा 2 थाना प्रभारी अनिल राजपूत ने बताया कि कासना पुलिया के पास पुलिस चेकिंग कर रही थी। तभी एक युवक अपाचे मोटरसाइकिल पर आता हुआ दिखाई दिया ।चेकिंग के लिए रोकने के बाद जब मोटरसाइकिल के बारे में जांच पड़ताल की गई तो पता चला कि उस पर फर्जी नंबर पर लगी हुई थी और मोटरसाइकिल चोरी की थी।

चोर की निशानदेही पर चोरी की मोटरसाइकिल बरामद

इसके बाद पुलिस अपाचे सवार विकास उर्फ विशु को पकड़कर थाने ले आई ।उससे पूछताछ की गई तो उसने चोरी के वाहनों के बारे में जानकारी दी।आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने सिग्मा 4 सेक्टर में झाड़ियों के नीचे से तीन चोरी की मोटरसाइकिल व तीन चोरी की स्कूटी बरामद की ।

फर्जी नंबर प्लेट लगाकर चलाता था चोरी के वाहन

शातिर चोर की निशानदेही पर पुलिस ने छह वाहन बरामद किए एक वाहन उससे चेकिंग के दौरान बरामद किया गया था। इन सभी वाहनों पर फर्जी नंबर प्लेट लगी हुई थी। उसने पूछताछ में बताया कि वह पुलिस से बचने के लिए इन वाहनों पर फर्जी नंबर प्लेट लगाकर इन्हें चलाया करता था।

कम दाम में लोगों को बेच देना था चोरी के वाहन

वाहन चोर ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि वह लोगों को कम दामों में इन वाहनों को भेज दिया करता था । वह इन वाहनों को दिल्ली एनसीआर से बाहर बेचा करता था। लोग उन्हें कम दामों में ले भी लिया करते थे ।अवैध धन अर्जित करने के लिए वह यह कार्य करता था। उसने पूछताछ में बताया कि वह मोटरसाइकिल और स्कूटी चोरी करने से पहले रैकी किया करता था और जैसे ही व्यक्ति अपने वाहन को छोड़कर जाता था फिर उसके बाद उसको चोरी करके लाकर झाड़ियों में छुपा दिया करता था और उसकी नंबर प्लेट बदल दिया करता था।

बिना गैंग के अकेला ही देता था चोरी की घटनाओं को अंजाम

बीटा 2 थाना प्रभारी अनिल राजपूत ने बताया कि यह एक शातिर किस्म का चोर है। जो दो पहिया वाहनों को अपना निशाना बनाता था और वाहनों को चोरी करने के बाद उन पर फर्जी नंबर प्लेट लगा दिया करता था ।फिलहाल इस ने जिन वाहनों को बेचा है उनके बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है ।इसने ज्यादातर यह वाहन नोएडा ग्रेटर नोएडा से ही चोरी किए थे। यह अकेला ही इन चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया करता था ।फिलहाल इससे अन्य वाहनों के बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है।

खबरें और भी हैं...