गाजियाबाद-नोएडा में कोरोना के 1824 मरीज:लोनी बॉर्डर थाने के 6 पुलिसकर्मी, जिम्स के 5 डॉक्टर और OPD में आए 17 मरीज संक्रमित

गाजियाबाद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद-नोएडा में कोरोना के 1824 मरीज मिले - Dainik Bhaskar
गाजियाबाद-नोएडा में कोरोना के 1824 मरीज मिले

दिल्ली से सटे जिला गाजियाबाद-नोएडा में कोरोना के नए मामले हर रोज रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं। शनिवार सुबह जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, गाजियाबाद में पिछले 24 घंटे के भीतर 683 नए केस मिले हैं। यहां अब कुल एक्टिव केस 2428 हो गए हैं। इसी तरह नोएडा में आज 1141 नए मरीजों के साथ कुल सक्रिय मरीजों की संख्या 3527 हो गई है।

लोनी बॉर्डर थाना कंटेन्मेंट जोन बना
गाजियाबाद नगर निगम के 4 कर्मचारी कोरोना संक्रमित मिले हैं। महापौर आशा शर्मा ने आदेश दिया है कि अब निगम कार्यालय में बिना मास्क एंट्री नहीं होगी। लोनी बॉर्डर थाने के SHO सचिन कुमार सहित 6 पुलिसकर्मी भी पॉजिटिव आ गए हैं। इसके बाद इस थाने को कंटेन्मेंट जोन बना दिया गया है। थाने पर जो लोग आ रहे हैं, उनसे बाहर ही शिकायती पत्र लिए जा रहे हैं।

कौन सा इलाका सर्वाधिक प्रभावित
गाजियाबाद में सबसे ज्यादा 241 मरीज इंदिरापुरम इलाके में हैं। इसकी वजह यह है कि ये इलाका गाजियाबाद के आउटर है और दिल्ली से सटा हुआ है। यहां वे तमाम लोग रहते हैं, जो दिल्ली में जॉब करने जाते हैं। दिल्ली की संक्रमण दर 17 फीसदी पहुंच गई है। इसके अलावा क्रोसिंग रिपब्लिक में 168, वसुंधरा में 77, राजनगर एक्सटेंशन में 75, कौशाम्बी में 92, साहिबाबाद में 74 कोरोना मरीज हैं।

अस्पतालों तक पहुंचा कोरोना
ग्रेटर नोयडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) के 5 डॉक्टर और 6 छात्र कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। शुक्रवार को इनकी रिपोर्ट आई थी। इसके बाद जिम्स की ओपीडी बंद कर दी गई है। इसी तरह गाजियाबाद के MMG जिला अस्पताल की ओपीडी में आए 17 मरीज भी शुक्रवार को संक्रमित पाए गए थे। यहां ओपीडी बंद नहीं की गई है, लेकिन आने वाले प्रत्येक मरीज की कोरोना जांच अनिवार्य कर दी गई है।

खबरें और भी हैं...