पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गाजियाबाद के लोनी कस्बे का नाम परशुराम नगर हो:भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर बोले- नाम बदलने से आसुरी शक्तियां खत्म होंगी और रामराज्य स्थापित होगा, डिप्टी सीएम को मांग पत्र सौंपा

गाजियाबाद6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद में एक दिन पहले आए डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा को विधायक ने लोनी का नाम बदलने के संबंध में एक मांगपत्र भी सौंपा है। - Dainik Bhaskar
गाजियाबाद में एक दिन पहले आए डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा को विधायक ने लोनी का नाम बदलने के संबंध में एक मांगपत्र भी सौंपा है।

शहरों के नाम बदलने की मांग की मुहिम में गाजियाबाद जिला भी जुड़ गया है। भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने कस्बा लोनी का नाम बदलकर भगवान परशुराम नगर करने की मांग की है। विधायक ने शनिवार को गाजियाबाद दौरे पर आए डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा को इस बाबत पत्र भी सौंपा है। डिप्टी सीएम ने इस पर विचार करने का भरोसा दिया है।

राक्षस लवणासुर की राजधानी था लोनी

डिप्टी सीएम को लिखे पत्र में विधायक ने कहा कि लोनी एक ऐतिहासिक एवं पौराणिक स्थल है। भगवान परशुराम की तपोस्थली है। पुरा महादेव में जागृत रूप में स्वयं महादेव विराजमान हैं। त्रेता युग में लोनी लवणासुर राक्षस की राजधानी का हिस्सा था जो राक्षसों के आतंक से ग्रसित क्षेत्र था। क्षेत्र की दुर्दशा और ऋषियों-मुनियों पर होते अत्याचार को देखकर भगवान परशुराम ने भगवान राम को लवणासुर राक्षस से क्षेत्र को मुक्त करने के लिए संदेश भेजा।

विधायक ने मांगपत्र में लोनी के पौराणिक इतिहास का भी हवाला दिया है।
विधायक ने मांगपत्र में लोनी के पौराणिक इतिहास का भी हवाला दिया है।

विधायक बोले- राक्षसी शक्तियों के प्रभाव से लोनी की छवि नकारात्मक
भगवान राम के ओदश से शत्रुघ्न महाराज ने लवणासुर राक्षस का वध किया था। समय बीतने के बाद लवणासुर के नाम से लोनी का अस्तित्व आज भी कायम है। विधायक ने कहा कि राक्षसी शक्तियों के प्रभाव में अपराधिक गतिविधियों से लोनी की छवि हमेशा नकारात्मक रही है। इसलिए 18 लाख की आबादी वाले कस्बा लोनी का नाम भगवान परशुराम नगर किया जाए, जिससे लोनी की छवि की पुर्नस्थापना, आसुरी शक्तियां खत्म और रामराज्य स्थापित हो सके।

इन शहरों के नाम बदलने की भी हो रही मांग

  • फिरोजाबाद -चंद्रनगर
  • मैनपुरी - मयन नगर
  • मिर्जापुर - विंध्यधाम
  • मियागंज - मायागंज
  • अलीगढ़ - हरिनगर

इनके बदले जा चुके हैं नाम
2017 में मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ ने सबसे पहले मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन किया। इसके बाद मुगलसराय तहसील का नाम भी यही रखा गया। अक्तूबर 2018 में संगम नगरी इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किया गया। फैजाबाद का अयोध्या हुआ। अब उन्नाव जिले के मियागंज ब्लॉक का नाम बदलकर मायागंज करने का प्रस्ताव डीएम ने सरकार को भेज दिया है। सिर्फ यूपी कैबिनेट को आखिरी फैसला लेना है।

खबरें और भी हैं...