गाजियाबाद...चोरी के वाहन OLX पर बेचने वाले 2 गिरफ्तार:मेरठ के सोतीगंज से चोरी की गाड़ियां खरीदते थे, 2 हजार रुपए में बनवाते थे फर्जी आरसी

गाजियाबाद7 महीने पहले
गाजियाबाद की कौशांबी पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से चोरी के 21 दुपहिया वाहन बरामद किए हैं।

गाजियाबाद जिले की कौशांबी थाना पुलिस ने वाहन चोरी गैंग के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। वे फर्जी आरसी बनाकर OLX पर बेचते थे। उनके पास से चोरी की 21 टू व्हीलर गाड़ियां बरामद की गई हैं। आरटीओ कार्यालय दिल्ली का एजेंट इस गिरोह से मिला हुआ है जो फर्जी आरसी तैयार करवाता था।

चेकिंग में स्कूटी पकड़ी, तब खुला सारा खेल

इंस्पेक्टर सचिन मलिक के अनुसार, रविवार सुबह चेकिंग के दौरान पुलिस ने दो युवकों को चोरी की स्कूटी के साथ पकड़ा। पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि वह चोरी के वाहन मेरठ में सोतीगंज के अनस से खरीदते हैं। अनस ही चोरी की बाइक-स्कूटी के चेसिस, इंजन नंबर घिसकर उन्हें वाहन उपलब्ध कराता है। इसके बाद वे दिल्ली में करोलबाग निवासी रमन सरदार से संपर्क करते हैं।

दो हजार रुपए में तैयार कराते थे फर्जी आरसी

रमन आरटीओ कार्यालय दिल्ली का एजेंट है। वह दो हजार से ढाई हजार रुपए तक में कार्यालय में सैटिंग करके कम्प्यूटराइज्ड आरसी निकलवा लेता है। इन नंबरों को ही गाड़ियों पर चढ़ा दिया जाता है। आरोपियों ने बताया कि इस तरह वे चोरी के वाहनों को ओएलएक्स पर बेचते थे। पिछले करीब चार साल से यह धंधा कर रहे थे। आरोपियों ने अब तक ऐसे सैकड़ों वाहन बेचने की बात कबूल की है।

आरोपी चोरी के वाहनों को ओएलएक्स पर बेचते थे।
आरोपी चोरी के वाहनों को ओएलएक्स पर बेचते थे।

आरोपियों से 21 वाहन बरामद

दोनों आरोपियों की निशानदेही पर कौशांबी पुलिस ने गाजियाबाद, मसूरी समेत कई जगह छापा मारकर 21 दुपहिया वाहन बरामद किए हैं। इसमें ज्यादातर वाहनों के चेसिस, इंजन नंबर घिसे हुए मिले हैं। इंस्पेक्टर ने बताया कि पकड़े गए आरोपी शादाब निवासी फरीदनगर थाना भोजपुर और मुशीर मलिक निवासी कैला भट्टा गाजियाबाद हैं।

सोतीगंज में करीब छोटी-बड़ी कई सौ दुकानें हैं।
सोतीगंज में करीब छोटी-बड़ी कई सौ दुकानें हैं।

दिल्ली-मेरठ के दो आरोपी वांटेड बनाए
गाजियाबाद में कौशांबी थाने के इंस्पेक्टर सचिन मलिक ने बताया कि इस मामले में दिल्ली के रमन सरदार और मेरठ सोतीगंज के अनस को वांटेड बनाया जा रहा है। दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। उनके पकड़े जाने के बाद कुछ और नए खुलासे होने की उम्मीद है। रमन ही बताएगा कि वह आरटीओ कार्यालय दिल्ली में किसके जरिये फर्जी आरसी बनवाता था।

इंस्पेक्टर सचिन मलिक ने बताया कि इस मामले में दिल्ली के रमन सरदार और मेरठ सोतीगंज के अनस को वांटेड बनाया जा रहा है।
इंस्पेक्टर सचिन मलिक ने बताया कि इस मामले में दिल्ली के रमन सरदार और मेरठ सोतीगंज के अनस को वांटेड बनाया जा रहा है।

वाहन कटान के लिए बदनाम है सोतीगंज

अभी पिछले दिनों पीएम नरेंद्र मोदी मेरठ आए थे। उन्होंने सोतीगंज बंद कराने का श्रेय सीएम योगी और स्थानीय पुलिस प्रशासन को दिया था। सोतीगंज में करीब छोटी-बड़ी कई सौ दुकानें हैं। यह बाजार चोरी के वाहनों के कटान के लिए देशभर में बदनाम है। हालांकि वर्तमान एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने सख्ती दिखाई और सारी दुकानें बंद करा दी हैं।

खबरें और भी हैं...