• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Ghaziabad
  • Farmers Of Six Villages Are Demanding Compensation From The New Acquisition Policy, After September 14, They Had Announced To Take Land Tombs; ADM Celebrated

गाजियाबाद में भू-समाधि नहीं लेंगे किसान:मुआवजे की मांग को लेकर 14 सितंबर के बाद समाधि लेने का किया था ऐलान, ADM ऋतु सुहास के आश्वासन पर टाला फैसला

गाजियाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
​​​​आवास विकास परिषद द्वारा मंडोला विहार योजना के तहत 1998 में 6 गांव मंडोला, नानू, मिलक बामला, अगरोला, नवादा, मक्सूदाबाद आदि गांव की 2614 एकड़ भूमि अधिग्रहित की थी। - Dainik Bhaskar
​​​​आवास विकास परिषद द्वारा मंडोला विहार योजना के तहत 1998 में 6 गांव मंडोला, नानू, मिलक बामला, अगरोला, नवादा, मक्सूदाबाद आदि गांव की 2614 एकड़ भूमि अधिग्रहित की थी।

गाजियाबाद में आवास-विकास की मंडोला विहार योजना से प्रभावित 6 गांव के किसानों ने भू-समाधि लेने के फैसले को वापस ले लिया है। एडीएम प्रशासन ऋतु सुहास ने शुक्रवार को आश्वासन दिया कि किसानों की मुआवजा संबंधी मांगों का जल्द निराकरण होगा। किसानों ने 14 सितंबर के बाद भू-समाधि लेने का ऐलान किया था।

6 गांवों की 2614 एकड़ जमीन अधिग्रहित​​​​​​​

आवास विकास परिषद द्वारा मंडोला विहार योजना के तहत 1998 में 6 गांव मंडोला, नानू, मिलक बामला, अगरोला, नवादा, मक्सूदाबाद आदि गांव की 2614 एकड़ भूमि अधिग्रहित की थी। उस समय 1100 रुपए के हिसाब से किसानों को मुआवजा दिया गया था।

2 दिसंबर 2016 को मंडोला समेत 6 गांव के किसानों ने 2013 भूमि अधिग्रहण अधिनियम के तहत अधिग्रहित भूमि का मुआवजा देने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। तब से आज तक धरना जारी है। इस दौरान किसानों ने विरोध के कई तरीके बदले, लेकिन समस्या हल नहीं हुई।

अब किसानों ने ऐलान किया था कि 14 सितंबर तक उनकी समस्या हल नहीं हुई तो वे जिंदा ही भू-समाधि ले लेंगे। इसके लिए किसानों ने धरनास्थल के नजदीक तीन दिन पहले गड्ढे भी खोद लिए थे।

जल्द समस्या निराकरण का दिया भरोसा

शुक्रवार को गाजियाबाद डीएम राकेश कुमार सिंह के निर्देश पर एडीएम प्रशासन ऋतु सुहास किसानों से बातचीत करने के लिए धरनास्थल पर पहुंचीं। एडीएम ने भरोसा दिया कि किसानों की समस्याओं का जल्द निराकरण किया जाएगा। इसके लिए प्रशासन की हायर अथॉरिटी से लगातार बातचीत चल रही है। इस आश्वासन पर किसानों ने भू-समाधि लेने का निर्णय वापस ले लिया।

खबरें और भी हैं...