गाजियाबाद में PUBG गन बेचने के नाम पर ठगी:बरेली से फ्रॉड गिरफ्तार, 100 गेम यूजर्स से 20 लाख रुपए से ज्यादा ठगे

गाजियाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद पुलिस ने पबजी के नाम पर ठगने वाले विशात बाबू उर्फ ईलू को बरेली जिले से गिरफ्तार किया है। - Dainik Bhaskar
गाजियाबाद पुलिस ने पबजी के नाम पर ठगने वाले विशात बाबू उर्फ ईलू को बरेली जिले से गिरफ्तार किया है।

टीन एजर्स में बेहद लोकप्रिय हो चुके पबजी (PUBG) गेम्स के नाम पर भी ठगी होने लगी है। उत्तर प्रदेश के जिला गाजियाबाद में ऐसा मामला सामने आया है। एक शातिर युवक ने पबजी का टूल्स (गन) बेचने के नाम पर करीब 100 लड़कों से तकरीबन 20 लाख रुपए ठग लिए। गाजियाबाद में एक गेम यूजर्स ने फ्रॉड की शिकायत दर्ज कराई तो पुलिस सक्रिय हुई और बरेली निवासी आरोपी को गुरुवार को धर दबोचा।

पबजी में इस तरह की गन होती हैं जो टास्क पूरा होने पर मिलती हैं।
पबजी में इस तरह की गन होती हैं जो टास्क पूरा होने पर मिलती हैं।

डेबिट-क्रेडिट कार्ड का फोटो मंगवाकर ओटीपी भेजकर करता था खाते खाली
गाजियाबाद पुलिस की साइबर क्राइम सेल के प्रभारी सुमित कुमार ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी 25 वर्षीय विशात बाबू उर्फ ईलू है। वह जिला बरेली में आंवला थाना क्षेत्र के मोहल्ला फूटा दरवाजा का रहने वाला है और MA फर्स्ट ईयर पासआउट है। आरोपी ने इंस्टाग्राम पर एक फर्जी पेज बना रखा था। इस पर वह दावा करता था कि वह पबजी यूजर्स को गन दे सकता है। शुरुआती कीमत उसने 799 रुपए रखी थी। इस रकम के लिए वह गेम यूजर्स से डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड की फोटो कॉपी मांगता था।
पहली बार में उनके खाते से 799 रुपए काटता था। फिर गन एक्टिव करने के नाम पर एक ओटीपी भेजता था और उस ओटीपी के जरिये (AJIO SHOPING APP) ऑनलाइन शॉपिंग कर लेता था। पुलिस का दावा है कि इस तरह विशात उर्फ ईलू करीब 100 लड़कों से ठगी कर चुका है। उसके खाते में करीब 20 लाख रुपए की ट्रांजेक्शन मिली है। इसके अलावा आरोपी से एक सोने की चेन, 3 मोबाइल और कुछ कार्ड बरामद हुए हैं।

गाजियाबाद के युवक से ठगे 2.10 लाख रुपए
सिहानी गेट थाना क्षेत्र के पटेलनगर-द्वितीय निवासी ललित मोहन तिवारी ने इस संबंध में पुलिस स्टेशन में 28 अप्रैल को एक मुकदमा दर्ज कराया था। ललित के अनुसार, उनके बैंक खाते से अज्ञात व्यक्ति ने 2 लाख 10 हजार रुपए निकाल लिए। पुलिस जांच में पता चला कि ललित मोहन तिवारी का बेटा पबजी यूजर्स है।

उसने पबजी गन खरीदने के लिए फ्रॉड को डेबिट कार्ड की कॉपी भेजी थी, जिसके बाद वह लगातार ओटीपी भेजकर चूना लगाता गया। गाजियाबाद पुलिस की साइबर क्राइम सेल ने इस संबंध में बैंक से उस खाताधारक की डिटेल्स मांगी, जिसने यह पैसा निकाला था। इस तरह पुलिस बरेली जिले में आरोपी तक पहुंची और उसे धर दबोचा।

पबजी में होती हैं कुल सात बंदूक
भारत में PUBG ऑनलाइन सर्वश्रेष्ठ मोबाइल गेमों में से एक है। हार्ड गेमर्स के लिए PUBG में जो खास बात है, वह उसकी बंदूकें हैं। इस गेम्स में यूजर्स को कुल सात तरह की बंदूकें अलग-अलग टास्क को पूरा करने पर मिलती हैं। इन बंदूकों को पाकर यूजर्स अपने टारगेट पर निशाना लगाते हुए आगे बढ़ते हैं और टास्क को पूरा करते हैं। अब आप सोचिये, टास्क को पूरा करने के लिए पबजी यूजर्स पैसा तक खर्च करने के लिए तैयार हैं।