NCR के जिलों की एयर क्वालिटी सुधरी:गाजियाबाद-नोएडा और मेरठ रेड जोन से बाहर, हवाएं तेज चलने से प्रदूषण हुआ कम

गाजियाबाद15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
यह तस्वीर दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे की है। सुबह के वक्त हल्की धुंध थी, लेकिन वायु की गुणवत्ता में कुछ सुधार दिख रहा था। - Dainik Bhaskar
यह तस्वीर दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे की है। सुबह के वक्त हल्की धुंध थी, लेकिन वायु की गुणवत्ता में कुछ सुधार दिख रहा था।

एनसीआर के ज्यादातर जिले लंबे वक्त बाद एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) में रेड जोन से बाहर हो गए। ये जिले अब रेड से ओरेंज जोन में आ गए हैं। यूपी पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के अफसरों का कहना है कि हवा कीज गति ज्यादा है, इस वजह से वायु प्रदूषण में कमी आई है। दिवाली से करीब एक हफ्ते पहले से गाजियाबाद का AQI 310 से 350 के बीच रह रहा था। ज्यादातर दिनों में गाजियाबाद शहर देश के सबसे प्रदूषित शहरों में शामिल रहा। करीब एक महीने बाद गाजियाबाद रेड जोन से निकलकर ओरेंज जोन में पहुंचा है। पूरे जिले का AQI 22 नवंबर की सुबह 9 बजे 260 दर्ज किया गया है। हालांकि गाजियाबाद के लोनी इलाके का AQI अभी 320 पर बना हुआ है। इसकी वजह यहां पर कूड़ा-करकट का जमावड़ा, रास्तों का खराब होना और खराब यातायात व्यवस्था है। गाजियाबाद के अलावा मेरठ, नोएडा, आगरा, बुलंदशहर, हापुड़ जिले भी रेड जोन से निकलकर ओरेंज जोन में आ गए हैं। उप्र प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के गाजियाबाद क्षेत्रीय अधिकारी उत्सव शर्मा ने बताया कि हवा की गति तेज हुई है। इस वजह से वायु प्रदूषण में सुधार हुआ है। इसके अलावा नगर निगम की ओर से लगातार पानी का छिड़काव कराया जा रहा है।

किस शहर का कितना AQI
बागपत285
बुलंदशहर245
दिल्ली307
गाजियाबाद260
ग्रेटर नोएडा213
हापुड़227
मेरठ236
नोएडा268