पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गाजियाबाद के नरेश हत्याकांड में 6 गिरफ्तार:उधार दिए 26 हजार रुपए नहीं मिले तो 65 हजार खर्च करके खरीदे हथियार, ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर युवक की कर दी हत्या

गाजियाबाद10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद के भोजपुर इलाके में दो सितंबर को हुए नरेश हत्याकांड में पुलिस ने चार हत्यारोपी और दो हथियार सप्लायर अरेस्ट किए हैं। - Dainik Bhaskar
गाजियाबाद के भोजपुर इलाके में दो सितंबर को हुए नरेश हत्याकांड में पुलिस ने चार हत्यारोपी और दो हथियार सप्लायर अरेस्ट किए हैं।

गाजियाबाद में भोजपुर थाना क्षेत्र के ग्राम मुकीमपुर में 2 सितंबर को हुई नरेश नामक व्यक्ति की हत्या का पुलिस ने शनिवार को खुलासा कर दिया। इस मामले में बीडीसी मेंबर समेत 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। उधार दी रकम वापस न मिलने पर हत्यारोपी ने वारदात को अंजाम दिया। हत्या के लिए हथियार उपलब्ध कराने वाले दो सप्लायर भी पकड़े गए हैं।

भोजपुर थानाध्यक्ष प्रभात कुमार दीक्षित ने बताया, 2 सितंबर को नरेश की गांव के पास ही गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में मृतक के भाई देवेंद्र ने अंकुश उर्फ अंकुर, नितिन रावत उर्फ भोलू आदि के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया था। पुलिस जांच में विनीत उर्फ गोलू और अमित उर्फ दीवान निवासी मुकीमपुर के भी नाम सामने आए।

शनिवार को पुलिस ने चारों आरोपियों को को मसूरी क्षेत्र में शिवगंगा अपार्टमेंट से गिरफ्तार कर लिया। उनसे हत्या में प्रयुक्त दो पिस्टल, कारतूस व नरेश की बाइक बरामद हुई जो वह हत्या के बाद लूटकर ले गए थे।

झूठे केस में फंसाने की धमकी देता था नरेश

पूछताछ में पता चला कि मृतक नरेश ने नितिन उर्फ भोलू से 36 हजार रुपए साढ़े तीन साल पहले उधार लिए थे। नरेश ने 10 हजार रुपए दे दिए। 26 हजार रुपए बाकी थी। नितिन के तगादा करने पर नरेश उसके साथ गाली-गलौज और अभद्रता करता और झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देता था। इससे नाराज होकर नितिन ने अपने तीन साथियों संग मिलकर नरेश की हत्या कर दी। एक आरोपी अंकुश उर्फ अंकुर पर 22 मुकदमे दर्ज हैं।

हथियार देने वाले दो सप्लायर भी पकड़े

पुलिस पूछताछ में पता चला कि हत्या करने के लिए दो पिस्टल 30-30 हजार और एक तमंचा 5 हजार रुपए में गांव नाहली से खरीदा गया था। पुलिस ने हथियार सप्लायर इस्लामुद्दीन व आरिफ को भी गिरफ्तार कर लिया।

खबरें और भी हैं...