• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Ghaziabad
  • In Ghaziabad, The Money Was Not Returned By Increasing The Credit Limit From The Bank, Three Guarantors Including The Owner Of The Steel Company Were Trapped

CBI ने चार करोड़ के फ्रॉड में दर्ज की एफआईआर:गाजियाबाद में बैंक से क्रेडिट लिमिट बढ़वाकर नहीं लौटाया पैसा, स्टील कंपनी के मालिक समेत तीन गारंटर फंसे

गाजियाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद की सीबीआई ब्रांच ने चार करोड़ के फ्रॉड में चार लोगों पर केस दर्ज किया है। - Dainik Bhaskar
गाजियाबाद की सीबीआई ब्रांच ने चार करोड़ के फ्रॉड में चार लोगों पर केस दर्ज किया है।

सीबीआई की गाजियाबाद ब्रांच ने पंजाब नेशनल बैंक से चार करोड़ रुपये के फ्रॉड में स्टील कारोबारी समेत चार लोगों पर धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है। सीबीआई ने इस संबंध में जांच-पड़ताल शुरू कर दी है।

पंजाब नेशनल बैंक रामप्रस्थ कॉलोनी सूर्यनगर गाजियाबाद के चीफ मैनेजर राजेश कुमार ने दो जुलाई इस संबंध में सीबीआई को एक शिकायत दी थी। जिसके बाद 30 जुलाई को सीबीआई गाजियाबाद ब्रांच ने जीटी रोड इंडस्ट्रियल एरिया स्थित शिवजी स्टील के मालिक दक्ष कुमार, अवधेश कुमार निवासी शालीमार गार्डन पसोंडा, लीना रानी और मनोज कुमार निवासी आर्यनगर गाजियाबाद के खिलाफ आईपीसी की धारा 120बी, 420, 468 और पीसी एक्ट-13 में एफआईआर दर्ज कर ली है। इस केस की जांच सीबीआई के इंस्पेक्टर ऋसभराज को दी गई है।

जून-2019 को बैंक ने RBI को रिपोर्ट भेजी

प्राथमिक जानकारी के अनुसार, शिवजी स्टील का पीएनबी सूर्यनगर में एक खाता 8 मई 2018 को खुला। इस खाते की क्रेडिट लिमिट बढ़वाकर 4 करोड़ रुपये की गई। इसके बदले कुछ प्रॉपर्टी के दस्तावेज मॉरगेज किए गए। शिवजी स्टील्स ने अवधेश, लीना और मनोज को गारंटर बनाया था। पैसा जमा न करने पर 16 जून 2019 को पीएनबी ने यह खाता एनपीए कर दिया। 20 फरवरी 2020 को इस खाते के बारे में आरबीआई को रिपोर्ट भेजी गई। अब पीएनबी के चीफ मैनेजर राजेश कुमार ने 4 करोड़ 14 लाख 40 हजार 516 रुपये के फ्रॉड की बात सीबीआई को बताई है।

खबरें और भी हैं...