जेवर में दिखे मोदी के तेवर:बोले- पहले यूपी में घोटालों-माफियाओं के ताने मिलते थे, अब तस्वीर बदल गई है

नोएडा7 दिन पहले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जेवर एयरपोर्ट का शिलान्यास कर दिया है। इस मौके पर मोदी ने कहा कि जेवर एयरपोर्ट कनेक्टिविटी को आसान बनाएगा। यह यूपी को अंतरराष्ट्रीय बाजारों से सीधे कनेक्ट करेगा। किसान फल, सब्जी, मछली को जल्दी एक्सपोर्ट कर पाएंगे। मेरठ की स्पोर्ट्स इंडस्ट्री,आगरा के पेठा को विदेशी मार्केट में पहुंचने में आसानी होगी।

पीएम ने कहा, 'आजादी के बाद यूपी को ताने सुनने के लिए मजबूर कर दिया गया था। कभी गरीबी के ताने, कभी घोटालों के ताने, कभी खराब सड़कों के ताने, कभी माफियाओं के ताने। अब यूपी अंतरराष्ट्रीय छाप छोड़ रहा है। पहले राजनीतिक लाभ के लिए रेवड़ियों की तरह इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट की घोषणा होती थी, लेकिन प्रोजेक्ट जमीन पर कैसे उतरेंगे, इस पर विचार ही नहीं होता था। दशकों तक प्रोजेक्ट अटके रहते थे। देरी का ठीकरा दूसरों पर फोड़ा जाता था।'

इससे पहले, सीएम योगी ने कहा कि जिन्ना के अनुयायी ने गन्ने की मिठास में कड़वाहट घोली थी। गन्ने की मिठास को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाने के लिए यह एयरपोर्ट बहुत अहम होगा।

मंच से उपस्थित जनता का अभिवादन करते पीएम मोदी
मंच से उपस्थित जनता का अभिवादन करते पीएम मोदी

मुख्य बातें-

  • सीएम योगी ने कहा- जिन्ना के अनुयायियों ने गन्ने की मिठास में कड़वाहट घोली थी। गन्ने की मिठास को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाने के लिए ये एयरपोर्ट बहुत अहम होगा।
  • सिंधिया ने कहा- जेवर की जनता की आंखों में नई चमक दिख रही है। यह सपना पूरा होने की चमक है। पीएम मोदी उस सपने को साकार करने का संकल्प पूरा करने जा रहे हैं। प्रधानमंत्री का सपना था कि एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट बनेगा। इस माटी पर 34 हजार करोड़ का निवेश होगा। यह एयरपोर्ट दिल्ली के एयरपोर्ट से भी बड़ा होगा। जेवर को रोड, रेल और मेट्रो से भी जोड़ा जाएगा। एयरपोर्ट से नोएडा, गाजियाबाद और आसपास का विकास होगा। एक लाख रोजगार मिलेंगे। 60 हजार करोड़ का निवेश होगा।
  • पहले सिर्फ देश में 74 एयरपोर्ट थे। अब 136 हो जाएंगे। जिस यूपी में पहले सिर्फ 4 एयरपोर्ट थे, अब 9 हो गए हैं। आगे 17 हो जाएंगे। 5 अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बन जाएंगे। रनवे पर प्लेन और पटरी पर ट्रेन... ये प्रधानमंत्री की सोच और विचारधारा है। पुरानी कहावत है जहां चाह है, वहां राह है। ये उदाहरण है, संकल्प के साकार होने का।
  • पीएम के पहुंचने से पहले नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ एक सितंबर से धरने पर बैठे 60 से ज्यादा किसानों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इन किसानों को गाजियाबाद पुलिस लाइन में रखा गया है। किसानों ने आज जेवर में जाकर पीएम को ज्ञापन देने का ऐलान किया था।
प्रधानमंत्री मोदी ने रिमोट का बटन दबाकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास किया।
प्रधानमंत्री मोदी ने रिमोट का बटन दबाकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास किया।
जेवर एयरपोर्ट का प्रस्तावित मॉडल
जेवर एयरपोर्ट का प्रस्तावित मॉडल

सितंबर-2024 में उड़ेगी पहली फ्लाइट

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट दुनिया का चौथा बड़ा हवाई अड्डा होगा। यह करीब 6200 हेक्टेयर में बनेगा। इसके निर्माण पर 29,650 करोड़ रुपए खर्च होंगे। पहले चरण में 1,334 हेक्टेयर जमीन पर एक रनवे और एक टर्मिनल साल-2024 तक बना दिया जाएगा।

सरकार की मंशा है कि सितंबर-2024 से यहां भारत के 9 शहरों समेत दुबई के लिए फ्लाइट शुरू हो जाए। पूरे हवाई अड्डे का निर्माण कार्य साल-2050 तक पूरा करने का टारगेट है। इसी एयरपोर्ट के नजदीक एयरक्राफ्ट के मेंटेनेंस के लिए देश का सबसे बड़ा सेंटर बनने जा रहा है। प्रधानमंत्री हाथों-हाथ इसका भी शिलान्यास करेंगे।

सुरक्षा बलों के 10 हजार जवान तैनात रहे

नोएडा के ADCP रणविजय सिंह ने बताया, शिलान्यास समारोह स्थल और उसके आसपास करीब 10 हजार सुरक्षा बलों को तैनात किया गया। इसमें पांच हजार जवान UP पुलिस के थे। इसके अलावा तीन हजार PAC और पैरा मिलिट्री फोर्स के जवान भी थे।

यह भी पढ़ें-

1 लाख लोगों को रोजगार देगा जेवर एयरपोर्ट:यहां देश का सबसे बड़ा एयरक्राफ्ट मेंटिनेंस सेंटर भी बनेगा, फिल्म सिटी और इंडस्ट्रीज डेवलप होंगी

खबरें और भी हैं...