गाजियाबाद में योगी ने कोरोना प्रबंधन की तैयारियां परखी:CM बोले- थर्ड वेव कम खतरनाक, वैक्सीन का दुष्प्रचार करने वाले आज चारों खाने चित

गाजियाबाद5 महीने पहले
सीएम योगी आदित्यनाथ ने गाजियाबाद के संतोष हॉस्पिटल का दौरा करने के बाद मीडिया को ब्रीफ किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार दोपहर करीब 2 बजे गाजियाबाद पहुंचे। उन्होंने संतोष हॉस्पिटल में पहुंचकर कोविड प्रबंधन को परखा। यह कोविड का लेवल-3 हॉस्पिटल है, जहां 400 बेड उपलब्ध हैं। वर्तमान में यहां 22 कोरोना संक्रमित मरीज भर्ती पाए गए। मुख्यमंत्री ने हॉस्पिटल के कंट्रोल रूम पहुंचकर कोविड वार्डों को सीसीटीवी कैमरे से देखा। उन्होंने ऑक्सीजन, वाईपेप, आईसीयू बेड के बारे में जानकारी ली। कोविड प्रबंधन को लेकर योगी संतुष्ट दिखाई दिए। इससे पहले उन्होंने गाजियाबाद के वैक्सीनेशन सेंटर का भी दौरा किया।

पौने दो वर्षों का अनुभव आज काम आया
योगी ने कहा कि कोरोना प्रबंधन की बदौलत हमने पहली व दूसरी कोरोना वेव पर सफलतापूर्वक काबू पाया। कोविड प्रबंधन का एक मॉडल देश में खड़ा किया। आज तीसरी वेव आ चुकी है। पिछले पौने दो वर्षों का अनुभव आज कोविड प्रबंधन में मदद कर रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज प्रदेश में कोरोना के जितने मामले हैं, उसके सिर्फ एक फीसदी मरीज अस्पताल में भर्ती हैं। यह दर्शाता है कि सेकेंड वेव की तुलना में थर्ड वेव कम खतरनाक है, लेकिन सभी को सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन का दुष्प्रचार करने वाले आज चारों खाने चित हैं। भारत में बनी वैक्सीन दुनिया में सबसे बेहतरीन है, इसे डॉक्टरों ने माना है।

सपा ने गुंडों को टिकट देकर अपना वास्तविक चेहरा दिखाया
पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले पांच वर्षों में हमारी सरकार ने जिन गुंडों में भय पैदा किया, उन्हीं को सपा ने टिकट दिया है। कैराना पलायन, मुजफ्फरनगर दंगों के जिम्मेदार अपराधियों को टिकट देकर सपा ने अपना वास्तविक चेहरा दिखा दिया है। सपा ने बता दिया है कि उनकी मंशा अपराधियों को आश्रय देकर आगे बढ़ाने की है। योगी ने कहा कि सपा ने अब अपना मुंह छिपाने के लिए प्रत्याशियों की सूची सार्वजनिक करने से परहेज कर दिया है। टिकट के लेनदेन का कार्य वह टेबिल के नीचे से चुपचापन कर रही है। मैं प्रदेश को आश्वस्त करता हूं कि यदि आर्शीवाद होगा तो 10 मार्च को भाजपा पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएगी।
गाजियाबाद में 10493 एक्टिव केस
गाजियाबाद में 17 जनवरी को कोरोना के 1301 नए केस मिले हैं। अब कुल एक्टिव केस 10493 हो गए हैं। कोरोना की तीसरी लहर में 55 वर्षीय वृद्ध की मौत 15 जनवरी को मेरठ मेडिकल कॉलेज में हुई है जो गाजियाबाद के रहने वाले थे। 9803 मरीज अभी होम आइसोलेट हैं। दिल्ली से सटा होने की वजह से गाजियाबाद और गौतमबुद्धनगर में कोरोना के सर्वाधिक केस आ रहे हैं। इसलिए कोरोना प्रबंधन की तैयारियों का जायजा लेने के लिए सीएम खुद यहां आए हैं।