पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Ghaziabad
  • Party Workers Clashed With Each Other After Abusing And Even Threatening To Kill Each Other, The Matter Calmed Down After The Intervention Of Senior Leaders

गाजियाबाद में रालोद की बैठक में हंगामा:आपस में भिड़े पार्टी कार्यकर्ता, गाली गलौज के बाद एक-दूसरे को मारने तक की धमकी...वरिष्ठ नेताओं के दखल के बाद शांत हुआ मामला

गाजियाबाद20 दिन पहले
दो दिन पहले ही धर्मेंद्र राठी को गाजियाबाद का नया जिलाध्यक्ष बनाया गया है।

गाजियाबाद में राष्ट्रीय लोकदल के क्षेत्रीय अध्यक्ष यशवीर सिंह के स्वागत समारोह में पार्टी पदाधिकारी आपस में भिड़ गए। खूब गाली-गलौज हुई। एक-दूसरे को मारने तक धमकी दी गई। प्रमुख नेताओं ने हस्तक्षेप के बाद मामला शांत कराया। इस मामले में रालोद की स्थानीय स्तर पर चल रही कलह भी सामने आ गई है।

जिलाध्यक्ष पद से हटने के बाद से है विवाद
राष्ट्रीय लोकदल ने दो दिन पहले ही धर्मेंद्र राठी को गाजियाबाद का नया जिलाध्यक्ष बनाया है। इससे पहले रालोद जिलाध्यक्ष रविंद्र चौहान थे। धर्मेंद्र राठी को रालोद के वरिष्ठ नेता अमरजीत सिंह को बिड्डी गुट से माना जाता है। इसके चलते अमरजीत सिंह और रविंद्र चौहान में काफी दिनों से अंदरूनी कलह चल रह है।

अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ा कार्यक्रम
रालोद के क्षेत्रीय अध्यक्ष यशवीर सिंह बुधवार को गाजियाबाद आए थे। स्वागत समारोह के बाद उन्हें एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करना था। इससे पहले ही पार्टी के दोनों नेता आपस में भिड़ गए। एक नेता ने दूसरे नेता को मीटिंग खत्म होने पर मारने तक की धमकी दी। इस दौरान गाली-गलौज भी हुई। कुल मिलाकर क्षेत्रीय अध्यक्ष का यह स्वागत समारोह अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ गया। रालोद जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र राठी का कहना है कि पुरानी किसी बात को लेकर दो कार्यकर्ताओं में विवाद हुआ था, जो सुलझा लिया गया।