गाजियाबाद...फ्लाईओवर से बस गिरने से दो की मौत:बाइक को टक्कर मारकर अनियंत्रित हुई बस रैलिंग तोड़कर नीचे गिरी, निजी कंपनी के दस लोग घायल

गाजियाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद में जीटी रोड स्थित भाटिया मोड़ फ्लाईओवर से एक निजी बस गिर गई। इस हादसे में कई लोग दब गए। - Dainik Bhaskar
गाजियाबाद में जीटी रोड स्थित भाटिया मोड़ फ्लाईओवर से एक निजी बस गिर गई। इस हादसे में कई लोग दब गए।

यूपी के गाजियाबाद में बुधवार रात करीब साढ़े नौ बजे बड़ा हादसा हो गया। सिहानी गेट थाना क्षेत्र में भाटिया मोड़ फ्लाईओवर से एक बस नीचे गिर गई। इस हादसे में दो लोगों की मौत हो गई और करीब 10 लोग घायल हो गए। बस के शीशे तोड़कर यात्रियों को बाहर निकाला और अस्पताल भेजा। हालांकि गाजियाबाद पुलिस का कहना है कि हादसे में अभी तक एक व्यक्ति की मौत हुई है। बस में करीब 10 लोगों के सवार होने की जानकारी मिली थी। सभी घायलों को अस्पताल भेजा गया है।

नोएडा से स्टाफ लेकर आ रही थी बस

यह बस शिव टूर एंड ट्रेवल्स की है, जिसका ऑफिस बरौला सेक्टर-49 नोएडा में है। बस ग्रेटर नोएडा के एलजी प्लांट में लगी हुई थी। इस प्लांट के कर्मचारियों को लेकर बस नोएडा से रात साढ़े नौ बजे लालकुआं के रास्ते गाजियाबाद में भाटिया मोड़ फ्लाईओवर की तरफ आ रही थी। बस जैसे ही फ्लाईओवर पर पहुंची, वह एक बाइक को टक्कर मारने के बाद अनियंत्रित होकर रैलिंग तोड़ते हुए बाईं तरफ जा गिरी।

मौके पर जुटी भीड़ ने तत्काल राहत-बचाव कार्य शुरू कर दिया।
मौके पर जुटी भीड़ ने तत्काल राहत-बचाव कार्य शुरू कर दिया।

रास्ते से गुजर रहा बाइक सवार भी दबा

फ्लाईओवर की सर्विस रोड पर पूरा बाजार लगा हुआ था। इस दौरान वहां से बाइक सवार युवक गुजर रहा था, वह भी बस के नीचे दब गया। तुरंत चीख-पुकार मच गई। सैकड़ों लोग इकट्ठा हो गए और बिना देरी किए बस के कई शीशे तोड़कर उसमें अंदर मौजूद लोगों को बाहर निकालना शुरू कर दिया। इधर, पुलिस फोर्स और क्रेन मौके पर आ गई।

राज्यमंत्री, डीएम-एसएसपी पहुंचे

सबसे पहले बस के भीतर से यात्रियों को बाहर निकाला गया। उन्हें एंबुलेंस से एमएमजी अस्पताल भेजा गया। इसके बाद क्रेन से बस को सीधा कराया गया। राज्यमंत्री अतुल गर्ग, डीएम राकेश कुमार, एसएसपी पवन कुमार मौके पर पहुंच गए हैं। एमएमजी अस्पताल से दस एंबुलेंस मौके पर भेजी गईं, जो लगातार घायलों को अस्पताल लाती रहीं।

सभी घायलों को एंबुलेंस से एमएमजी अस्पताल भेजा गया है।
सभी घायलों को एंबुलेंस से एमएमजी अस्पताल भेजा गया है।

बाजार बंद होने से बड़ा हादसा टला

बताया जा रहा है कि फ्लाईओवर के सर्विस रोड पर दिन में पूरा बाजार लगता है। रात साढ़े नौ बजे होने की वजह से अधिकांश बाजार बंद हो चुका था। ऐसे में यहां ज्यादा भीड़भाड़ नहीं थी। यदि हादसा कुछ समय पहले होता तो जनहानि ज्यादा हो सकती थी। सड़क पर चलने वाले राहगीर बड़ी संख्या में बस की चपेट में आ सकते थे।