गाजियाबाद में मुठभेड़ में बदमाश को लगी गोली:झारखंड से हवाईजहाज में बैठकर चोरी करने आता था गिरोह, फर्जी करेंसी सप्लाई से भी जुड़े हैं तार

गाजियाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद के सिहानी गेट क्षेत्र में देर रात हुई मुठभेड़ में झारखंड के एक बदमाश को पैर में गोली लगी है। - Dainik Bhaskar
गाजियाबाद के सिहानी गेट क्षेत्र में देर रात हुई मुठभेड़ में झारखंड के एक बदमाश को पैर में गोली लगी है।

गाजियाबाद की सिहानी गेट थाना पुलिस से बदमाशों की शुक्रवार देर रात करीब 2 बजे पुराना बस अड्डा के पास मुठभेड़ हो गई। इसमें एक बदमाश पैर में गोली लगने से घायल हो गया, जबकि उसका साथी भाग निकला। पुलिस ने घायल बदमाश को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है।

इंस्पेक्टर मिथलेश कुमार उपाध्याय ने बताया कि घायल बदमाश की पहचान एनामुल शेख (37) के रूप में हुई है। वह झारखंड में पियरपुर साहेबगंज का रहने वाला है।

जबकि उसके फरार साथी कमरुद्दीन शेख, शबीउल, मोतीउल हैं। यह पूरा गैंग झारखंड का रहने वाला है। जो चोरी करने के लिए भी हवाईजहाज से यहां आता था।

चोरी करने से पहले करते थे रेकी

इंस्पेक्टर के अनुसार, कमरुद्दीन गैंग लीडर है। उसे जहां चोरी करनी होती है, वहां कई दिन पहले पहुंच जाता है। उसके नजदीक ही किराए पर कमरा लेकर रहने लगता है। रेकी करने के बाद चोरी करने से दो दिन पहले अपने पूरे गैंग को फ्लाइट के जरिये झारखंड से बुला लेता है।

इसके बाद चोरी करके फ्लाइट से ही वापस चले जाते हैं। इस बार यह गिरोह एक बैंक में चोरी की प्लानिंग बना रहा था, उससे पहले ही पुलिस ने गैंग लीडर को धर दबोचा।

एनामुल शेख के खिलाफ आंध्र प्रदेश में तीन मुकदमे दर्ज

पकड़े गए आरोपी एनामुल शेख के खिलाफ आंध्र प्रदेश में फर्जी करेंसी के भी तीन मुकदमे दर्ज हैं। वह करीब चार साल तक सेंट्रल जेल चेरलापल्ली हैदराबाद में बंद रहा है। इंस्पेक्टर ने बताया कि आरोपी के कब्जे से तमंचा, कारतूस, मोबाइल और चोरी में इस्तेमाल औजार बरामद हुए हैं।

खबरें और भी हैं...