पड़ोसी को फंसाने के लिए दी थी कन्हैयालाल जैसी धमकी:व्यापारी नेता को मिले थ्रेट लेटर का हुआ खुलासा, एक आरोपी गिरफ्तार

गाजियाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद पुलिस ने व्यापारी नेता को धमकी देने में परवेज नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। - Dainik Bhaskar
गाजियाबाद पुलिस ने व्यापारी नेता को धमकी देने में परवेज नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।

गाजियाबाद में भारतीय व्यापार मंडल के प्रदेश मंत्री देवेंद्र ढाका को कन्हैया लाल की तरह धमकी देने के मामले में पुलिस एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी अपने पड़ोसी को फंसाना चाहता था। इसलिए उसके नाम से व्यापारी नेता को धमकी भरा पत्र भेजा था।

पत्र में क्या लिखा था, पढ़िए…

देवेंद्र ढाका, उदयपुर में कन्हैयालाल के बाद अब तू मरने को तैयार हो जा। तू मुसलमानों के खिलाफ बहुत पोस्ट डालता है। मैं तुझे खुला चैलेंज देकर मारुंगा। और फिर मैं शहीद भी हो जाऊं या गिरफ्तार भी हो सकता हूं, लेकिन हम पठान छिपकर वार नहीं करते। आज से अपनी और अपने पुत्र रचित की उल्टी गिनती शुरू कर दे। मैं जामिया से पढ़ा हूं और तेरे खिलाफ वहां मैंने पूरी फौज बना दी है। अब तू मेरा नाम भी सुन ले और नंबर भी। मुझे सनकी यूं ही नहीं कहते हैं। तेरी मौत। सदर पठान पुत्र शाहिद, खेकड़ा, ऊपरकोट।

4 जुलाई को मिला था पत्र

लोनी बॉर्डर थाना प्रभारी योगेंद्र सिंह पंवार ने बताया, व्यापारी नेता देवेंद्र ढाका की गाजियाबाद के कस्बा लोनी में दिल्ली-सहारनपुर रोड पर ‘ढाका इलेक्ट्रिकल’ नाम से दुकान है। उन्हें यह पत्र 4 जुलाई की शाम घर पर डाक के जरिए प्राप्त हुआ। पत्र में देवेंद्र ढाका और उनके बेटे का हत्या की धमकी दी गई। पत्र के लिफाफे के ऊपर सदर पठान का नाम लिखा हुआ था। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ धमकी देने का केस दर्ज किया और जांच शुरू कर दी।

गाजियाबाद में व्यापारी नेता देवेंद्र ढाका को यह धमकी भरा पत्र 4 जुलाई को मिला था।
गाजियाबाद में व्यापारी नेता देवेंद्र ढाका को यह धमकी भरा पत्र 4 जुलाई को मिला था।

डाकघर की CCTV से खुला राज

एसपी देहात ईरज राजा ने बताया कि पुलिस ने सबसे पहले यह पता लगाया कि स्पीड पोस्ट किस डाकघर से हुआ है। इसके बाद वहां के CCTV कैमरे देखे गए। इस तरह आरोपी तक पहुंच पाए। गुरुवार को इस मामले में एक आरोपी की गिफ्तारी हुई है। आरोपी की पहचान परवेज अली के रूप में हुआ है। वह लोनी में ऊपर-कोट का रहने वाला है।

आरोपी बोला– पड़ोसी को फंसाना चाहता था

पूछताछ में परवेज अली ने बताया कि धमकी भरे लिफाफे पर जिस सदर खान का नाम लिखा गया था, वह उसका पड़ोसी है। कुछ दिन पहले दोनों में किसी बात को लेकर विवाद हुआ था। इसलिए परवेज ने सदर खान को फंसाने की साजिश रची। परवेज किसी मौके की तलाश में था। उसे पता चला कि आजकल नुपूर शर्मा केस में तमाम जगह लोगों को धमकियां दी जा रही हैं। बस यही आइडिया लेकर परवेज ने सदर खान के नाम से धमकी भरा पत्र व्यापारी नेता देवेंद्र ढाका को भेज दिया। पुलिस ने बताया कि आरोपी को जेल भेजा जा रहा है।

व्यापारी नेताओं में इस धमकी को लेकर आक्रोश था। उन्होंने एसडीएम लोनी को ज्ञापन देकर खुलासे की मांग भी की थी।
व्यापारी नेताओं में इस धमकी को लेकर आक्रोश था। उन्होंने एसडीएम लोनी को ज्ञापन देकर खुलासे की मांग भी की थी।