गाजियाबाद...फूफा से मुहब्बत में पति को मरवाया:सब्जी विक्रेता हत्याकांड का खुलासा, कत्ल करने के चंद घंटे बाद आरोपी फूफा ने भेद खुलने के डर से दी जान; पत्नी गिरफ्तार

गाजियाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद के मसूरी थाना क्षेत्र में 10 सितंबर को हुई सब्जी विक्रेता अनीस की हत्या में पुलिस ने उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया है। - Dainik Bhaskar
गाजियाबाद के मसूरी थाना क्षेत्र में 10 सितंबर को हुई सब्जी विक्रेता अनीस की हत्या में पुलिस ने उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया है।

गाजियाबाद जिले के मसूरी इलाके में हुई सब्जी विक्रेता अनीस की हत्या का पुलिस ने मंगलवार को सनसनीखेज खुलासा कर दिया। पता चला कि अनीस की पत्नी के उसके फूफा से अवैध संबंध थे। रास्ते से हटाने के लिए फूफा ने अनीस को मार डाला और फिर खुद भेद खुलने के डर से आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मृतक की पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है।
11 सितंबर को रजवाहे की पटरी पर मिली थी लाश
मसूरी थाना क्षेत्र में ग्राम नाहल निवासी सब्जी विक्रेता अनीस की 11 सितंबर को हत्या कर दी गई थी। उसका शव ढबारसी गांव के जंगल में रजवाहे की पटरी पर पड़ा मिला था। इस मामले में मृतक की पत्नी दिलशाद उर्फ गुड्डी ने अपनी बहन के पति व देवर के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। इस हत्याकांड के कुछ घंटे बाद ही मृतक अनीस के फूफा जान मोहम्मद ने नाहल गांव में जाकर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी।

सब्जी विक्रेता अनीस की लाश 10 सितंबर को रजवाहे की पटरी पर मिली थी।
सब्जी विक्रेता अनीस की लाश 10 सितंबर को रजवाहे की पटरी पर मिली थी।

बयानों में अंतर, चर्चाओं से घूमी शक की सुईं
पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण सिर में चोट होना बताया। पुलिस ने मृतक की पत्नी से पूछताछ की। उसने बताया कि अनीस दवाई लेने गए थे और लौटकर नहीं आए। सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि अनीस एक टेम्पो से गया था। पुलिस ने टेम्पो चालक से बातचीत की। उसने जानकारी दी कि अनीस हापुड़ जाने की बात कह रहे थे। दोनों बयानों में विरोधाभास पाया गया। इधर, अनीस की हत्या और फूफा जान मोहम्मद की खुदकुशी के बाद गांव में कई तरह के चर्चे होने लगे। इसमें सबसे प्रमुख अनीस की पत्नी दिलशादी उर्फ गुड्डन का जान मोहम्मद से प्रेम प्रसंग प्रमुख रूप से चर्चाओं में था।
मृतक की जमीन बेचकर अलग रहने की थी प्लानिंग
पुलिस ने कई बिंदु सामने आने के बाद मृतक की पत्नी दिलशादी उर्फ गुड्डी को हिरासत में ले लिया। उससे पूछताछ हुई तो सच्चाई सामने आ गई। बकौल गुड्डी, उसके मृतक के फूफा जान मोहम्मद से संबंध थे। अनीस की कमाई अच्छी खासी नहीं थी। जान मोहम्मद ने पूरे परिवार का खर्च चलाने का भरोसा दिया था। बाद में अनीस को रास्ते से हटाने की प्लानिंग हुई। यह भी तय हुआ कि अनीस की हत्या के बाद उसके हिस्से की नौ बीघा जमीन बेचकर दोनों हापुड़ में रहेंगे।
ऑटो से उतारकर जंगल में ले जाकर हत्या
प्लान के अनुसार, 10 सितंबर को गुड्डी ने अनीस को यह कहकर हापुड़ भेजा कि उसके फूफा ने बुलाया है। रास्ते में जान मोहम्मद ने अनीस को ऑटो से उतार लिया। जंगल में ले जाकर उसकी हत्या कर दी। हत्या के कुछ घंटे बाद ही जान मोहम्मद को जानकारी हुई कि उसके प्रेम प्रसंग के चर्चे गांव में फैल गए हैं। उसे पकड़े जाने का डर सताने लगा। इसके चलते जान मोहम्मद ने भी उसी दिन कुछ घंटे बाद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मसूरी थाने के इंस्पेक्टर अशोकपाल सिंह ने बताया कि एक हत्यारोपी मर चुका है। हत्या का षड़यंत्र रचने वाली दिलशादी उर्फ गुड्डी को मंगलवार को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है।

खबरें और भी हैं...