गाजीपुर में डीएम ने लिया एक्शन:संतोषजनक कार्य न करने पर पर जताई नाराजगी, MOIC का वेतन रोकने के निर्देश

गाजीपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गाजीपुर की जिलाधिकारी आर्यका अखौरी ने जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने एमओआईसी सुभाखरपुर के संतोषजनक कार्य न करने पर नाराजगी जताई। साथ ही आग्रीम आदेश तक कर्मचारियों के वेतन रोकने और रेवतीपुर एमओआईसी को स्पष्टिकरण देने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने जननी सुरक्षा योजना, जेएसवाई के भुगतान, मातृत्व मृत्यु दर की समीक्षा, परिवार कल्याण कार्यक्रम, टीकाकरण, 108/102 एम्बुलेंस की उपलब्धता, आशा कार्यक्रम/जे एस वाई भुगतान, क्षय रोग नियंत्रण, कुष्ठ उन्मूलन, प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना, आयुष्मान कार्ड, जन्म-मृत्यु पंजीयन, कोविड-19 टीकारण एवं अन्य बिन्दुओं पर विस्तपूर्वक समीक्षा की गयी। समीक्षा के दौरान उन्होंने जननी सुरक्षा योजनार्न्तगत गर्भवती महिलाओं के प्रसव के सम्बन्ध जानकारी ली। गर्भवती महिलाओं के पंजीकरण के समय ही बैंक विवरण प्राप्त करने तथा लम्बित भुगतानों का निर्देश दिया।

महिला नसबन्दी शिविर का आयोजन
मुख्य चित्सिाधिकारी डॉ. हर गोविंद सिंह ने बताया कि परिवार कल्याण कार्यक्रम के अन्तर्गत जनपद में महिला नसबन्दी शिविर का आयोजन किया जा रहा है।आधुनिक अस्थायी विधिया अन्तरा कापर-टी की सेवायें जिला महिला चिकित्सालय एवं समसत ब्लाक स्तरीय स्वास्थ्य इकाईयों पर दी जा रही है। जनपद में अगस्त, 2022 तक महिला नसबन्दी 930 एवं पुरूष नसबन्दी 07 की गयी।

जिलाधिकारी आर्यका अखौरी ने जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक ली।
जिलाधिकारी आर्यका अखौरी ने जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक ली।

359621 व्यक्तियों के गोल्डेन कार्ड मिला
बताया गया कि आयुष्मान भारत योजना में लक्षित व्यक्ति 747572 के सापेक्ष 359621 व्यक्तियों के गोल्डेन कार्ड बनाकर प्रदान किया गया। जिलाधिकारी प्रत्येक पात्र लाभार्थी परिवार का शत-प्रतिशत गोल्डेन कार्ड जारी करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि कोई भी पात्र परिवार आयुष्मान कार्ड से वंचित न रहे। कोविड-19 टीकाकरण में जिलाधिकारी समस्त प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिया। जितने भी टीकाकरण होते है। उसकी प्रतिदिन पोर्टल पर ऑन फीडिंग अवश्य करायी जाये।

खबरें और भी हैं...