कासिमाबाद सीएचसी में टीबी मरीजों को दिया गया पोषाहार:पिता की पुण्यतिथि पर बेटे ने 50 क्षय रोगियों को लिया गोद, कहा- मरीजों को रखेंगे ख्याल

गाजीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देश को 2025 तक टीबी मुक्त बनाने को लेकर लगातार अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में गाजीपुर जिले के अरविंद सिंह यादव 50 टीबी रोगियों को गोद लेने का निर्णय लिया है। मंगलवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कासिमाबाद में अरविंद सिंह यादव अपने स्वर्गीय पिता सुरेंद्र सिंह यादव की स्मृति में क्षय रोगियों को गोद लिया और उन्हें पोषाहार वितरित किया।

2025 तक पूरे देश को टीबी मुक्त करने को लेकर राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने टीबी रोगियों को जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ ही जनप्रतिनिधियों के द्वारा गोद लेने और उनके भरण-पोषण के साथ ही उनके दवा का ख्याल रखने का एक सर्कुलर जारी किया था। इसके साथ ही आमजन से भी इन मरीजों को गोद लेकर इन्हें सुपोषित करने का आवाहन किया गया था। उसी आवाहन को लेकर अरविंद सिंह यादव ने अपने ब्लॉक के 50 टीबी रोगियों को गोद लिया।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कासिमाबाद में 50 क्षय रोगियों को लिया गया गोद।
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कासिमाबाद में 50 क्षय रोगियों को लिया गया गोद।

पोषण सामग्री वितरित
अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. केके वर्मा ने बताया कि टीबी मुक्त भारत को लेकर शासन के द्वारा लगातार प्रयास जारी है। कई तरह के कार्यक्रमों के माध्यम से 2025 तक क्षय रोग मुक्त भारत बनाने की दिशा में कदम उठाया जा रहा है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कासिमाबाद पर 50 टीबी मरीजों को स्थानीय अरविंद सिंह यादव एवं संजय सिंह यादव ने अपने पिता स्वर्गीय सुरेंद्र सिंह यादव की स्मृति में गोद लेकर उन्हें पोषण सामग्री वितरित किया है। इसके साथ ही यह वादा किया गया कि वह मरीजों का आगे भी ध्यान रखेंगे।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कासिमाबाद में टीबी रोगियों को वितरित किया गया पोषाहार।
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कासिमाबाद में टीबी रोगियों को वितरित किया गया पोषाहार।

ये लोग रहे मौजूद
इस कार्यक्रम में प्रभारी अधीक्षक डॉ. सरफराज आलम, डॉ. मिथिलेश कुमार सिंह, अनुराग पांडेय, डीपीपीएमसी संजय प्रसाद, दिनेश सिंह, मनोज और अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...