गाजीपुर में ट्रांसफार्मर और तारों पर चढ़ रही खर-पतवार:ग्रामीणों को सता रहा हादसे का डर, बिजली विभाग के अफसर नहीं दे रहे ध्यान

गाजीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गाजीपुर जिले के मरदह क्षेत्र में जहां बिजली कटौती व जर्जर बिजली तार की जटिल समस्या बनी हुई है। वहीं दूसरी ओर सार्वजनिक स्थलों सहित सरकारी भवनों से गुजरते तार और ट्रांसफार्मर पर खर पतवार, घास-फूस लटके हुए हैं जो दुर्घटना को दावत दे रहे हैं।

मरदह बाजार मस्जिद के पास बिजली के तारों पर पौधे लटक रहे हैं। वहीं जागोपुर रोड स्थित टांसफार्मर, उप डाकघर, ब्लाक रोड स्थित ट्रांसफार्मर, पानी टंकी, विकासखंड कार्यालय, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, बैंक आफ इंडिया के पास, थाना परिसर, ब्लाक संसाधन केंद्र, कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय के पास बिजली तार दुर्घटना को दावत दे रहे है।

तारों पर लिपटी बेल।
तारों पर लिपटी बेल।

खर-पतवारों से घिरे ट्रांसफार्मर

स्थानीय नागरिक अजय सिंह, मनिष विश्वकर्मा, पवन विश्वकर्मा, सिन्टु जायसवाल ने बताया कि जर्जर तार अक्सर टूट कर गिर जाते हैं जिससे बड़े हादसे की संभावना बनी रहती है। कई बार शिकायत करने के बावजूद बिजली विभाग इन तारों को बदलवाने के लिए कोई ठोस कदम उठाता नहीं दिख रहा है। गौरीशंकर पाण्डेय, राजू यादव, संजय सिंह, अरविन्द मौर्या, रिंकू श्रीवास्तव, बबलू सिंह, अतुल सिंह, छोटेलाल पासवान ने बताया कि ट्रांसफार्मर जैसे विद्युत उपकरणों के पास खर-पतवार होने की वजह से हमेशा दुर्घटना होती रहती है लेकिन विभाग इसकी सुध नही लेता।

जर्जर लटकते तार।
जर्जर लटकते तार।

विभागीय अफसर नहीं दे रहे ध्यान

मालूम हो कि बिजली के तारों और ट्रांसफार्मर से लिपटे हरे पौधों की बेल बारिश के मौसम में पास से गुजरने वाले लोगों के लिए जानलेवा साबित हो सकती है। इसकी गंभीरता के बावजूद विभागीय अफसर पूरी तरह उदासीन बने हुए हैं। जिसको लेकर स्थानीय लोगों में दिनों दिन रोष बढ़ता जा रहा है। वहीं इस समस्या के बाबत बिजली अफसर मौन साधे हुए हैं।

खबरें और भी हैं...