किसान गोष्ठी एवं पाठशाला का हुआ आयोजन:किसानों को पीएम सम्मान निधि ई-केवाईसी एवं केसीसी कंप्लीट करने की अपील

सेवराई, गाजीपुर22 दिन पहले

सेवराई तहसील के विभिन्न ग्राम पंचायतों में कृषि तकनीकी सहायकों के द्वारा किसान गोष्ठी एवं बैठक का आयोजन किया जा रहा है। जिसके अंतर्गत शासन द्वारा संचालित केसीसी एवं पीएम किसान ई-केवाईसी पंजीकरण के बारे में किसानों को जानकारी दी जा रही है।

भदौरा विकासखंड के कृषि तकनीकी प्रबंधक इंद्रेश कुमार वर्मा के द्वारा क्षेत्र के गहमर, सायर, पालहनपुर, पचौरी, हथौरी गांव में किसानों के साथ किसान गोष्ठी एवं बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में किसानों को जानकारी देते हुए बताया कि सभी किसान अपने खेत अनुसार केसीसी के लिए आवेदन पत्र दे सकते हैं जिससे उनको संबंधित बैंकों के माध्यम से उनकी भूमि अनुसार ऋण मुहैया कराया जाएगा। जिससे वह अपने खरीफ और रबी की फसल के लिए होने वाले खर्च का निर्वहन कर सकेंगे।

इस ऋण का भुगतान उन्हें प्रति छमाही की दर से करना होगा। सरकार द्वारा दिशा निर्देश के क्रम में किसानों को दिए गए ऋण के एवज में भुगतान सुनिश्चित होने तक 4% का ब्याज देय होगा। अगर किसानों द्वारा फसल चक्र में रेड का भुगतान नहीं किया गया तो उन्हें 7% ब्याज देय होगा।

कृषि तकनीकी प्रबंधक सिंह उदय राज ने विकासखंड के रोइनी, कुतुबपुर, मगरखाई, बारा, हरकरनपुर, भतौरा गांव में किसानों के साथ बैठककर उन्हें पीएम किसान योजना के अंतर्गत मिलने वाले लाभ के बारे में बताते हुए जानकारी दी। शासन द्वारा जारी सूचना व निर्देश के अनुसार पीएम किसान के लाभार्थी सभी किसान अपना ई केवाईसी कंप्लीट करवा लें, जिससे प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना की अगली किस्त उन्हें उनके खाते में निर्बाध रूप से मिल सके।

कृषि तकनीकी प्रबंधक सच्चिदानंद पांडेय ने लहना, बरेजी, देवल, बक्सडा, अमौरा, मिश्रवलिया, सूरहा आदि गांव में बैठक कर किसानों को पीएम किसान एवं किसान क्रेडिट कार्ड के बारे में जानकारी दी। बताया कि किसानों द्वारा प्रतिवर्ष दो फसली चक्र के अनुसार खरीफ व रबी की फसल की बुवाई की जाती है। खेती में अक्षम किसानों को सरकार द्वारा सुदृढ़ बनाने के उद्देश्य से किसान क्रेडिट कार्ड योजना अंतर्गत कौन है कम ब्याज दर पर ऋण मुहैया कराया जा रहा है। श्याम सुंदर सिंह, किसान राकेश कुमार आदि किसान मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...