बरसात के मौसम में करनैलगंज नगर पालिका की खुली पोल:चारों ओर जलभराव की समस्या, शासन के दावे में दिखी पोल

करनैलगंज12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कर्नलगंज का नगर पालिका परिषद जो हमेशा से विवादों के चलते सुर्खियों में बना रहता है, और जिसको लेकर आए दिन साफ-सफाई तथा जल निकासी की समस्या को लेकर शिकायतें भी की जाती है। उस नगरपालिका की पोल बरसात के मौसम में अपने आप ही खुल जाती है। जिसका नजारा बरसात के बाद चारों ओर जलभराव के चलते तालाब में तब्दील होते क्षेत्र दिखाई देते हैं।

नगर में इस समय हो रही बारिश के चलते जगह-जगह जलभराव की समस्या उत्पन्न हो गई है। जिससे एक तरफ पूरा नगर तालाब में तब्दील हो गया है, वहीं दूसरी और जलभराव की समस्या से आवागमन पूरी तरह बाधित हो चुका है। इसका कारण नालियों की सफाई में नगर पालिका की लापरवाही साथ ही अवैध अतिक्रमण के खिलाफ नगर पालिका की मौन सहमति एक बड़ी समस्या को दावत दे रहा है।

मुख्यमंत्री का फरमान भी हो रहा बेअसर
सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर नगर विकास मंत्री के द्वारा सभी नगर निकायों तथा नगर पालिका परिषदों को बरसात में जलभराव की समस्या को देखते हुए नालियों की साफ-सफाई और अवैध अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए गए थे। लेकिन मुख्यमंत्री का आदेश भी कर्नलगंज नगरपालिका के लिए कोई मायने रखता नहीं दिखाई दे रहा। जिसका नजारा नगर में देखने को मिल रहा है। जहां भीषण जलभराव की मार से नगर के लोग बुरी तरह परेशान हैं।

सड़क पर भरा बरसात का पानी।
सड़क पर भरा बरसात का पानी।

जलभराव की समस्या से राहगीरों को हो रही दिक्कत
कर्नलगंज के बीचो-बीच स्थित घंटाघर चौराहे पर बरसात के मौसम में जलभराव की समस्या न सिर्फ राहगीरों के लिए बल्कि व्यवसायियों के लिए भी बड़ी मुसीबत बन जाती है। वहीं स्टेशन रोड पर भी जलभराव के चलते पूरी सड़क तालाब में तब्दील हो जाती है। यही नहीं बालूगंज पश्चिमी वार्ड में गोंडा लखनऊ हाईवे के निकट जलभराव के चलते पूरा आवागमन प्रभावित हो जाता है।

एसडीएम ने साफ-सफाई के लिए दिए निर्देश
इन सब समस्याओं के बावजूद नगर पालिका कोई भी कार्रवाई नहीं कर रहा, जिससे लोगों को जलभराव की समस्या से निजात दिलाई जा सके। इस समस्या को लेकर एसडीएम हीरालाल ने बताया कि नगरपालिका को तत्काल जल निकासी व नालियों की साफ-सफाई के लिए निर्देशित किया गया है।