• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gonda
  • 2 Jailed For Writing A Fake Case In Gonda: On September 19, The Young Man Had Given Information About The Deadly Attack, In The Investigation It Was Found That The Partner Himself Fired

गोंडा में फर्जी मुकदमा लिखाने पर 2 को जेल:19 सितंबर को युवक ने जानलेवा हमले की दी थी सूचना, जांच में पता चला साथी से खुद ही कराई फायरिंग

गोंडा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने घटना का खुलासा कर दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने घटना का खुलासा कर दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया है।

गोंडा में फर्जी मुकदमा लिखाने पर पुलिस ने दो लोगों को जेल भेज दिया है। युवक ने 19 सितंबर को पुलिस को खुद पर जानलेवा हमले की सूचना देकर नामजद तहरीर दी थी। रुपयों के लेनदेन में पड़ाेसी गांव के युवक को फंसाने के लिए उसने खुद पर फायरिंग कराई थी। पुलिस ने घटना का खुलासा कर दोनों काे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

क्या है मामला?

19 सितंबर को नरायनपुर माफी के रहने वाले ननके ओझा पुत्र बालकराम ने पुलिस को सूचना दी थी कि वह मामा रामअनुज तिवारी के साथ आर्यनगर जा रहा था। ग्राम अकबरपुर के पास तिलकराम मौर्या व उसके लड़का ने दो अन्य लोगों के साथ मिलकर उसके ऊपर फायरिंग कर दी। जिसमें एक गोली उसके हाथ में लग गई और वह घायल हो गया। घटना संदिग्ध लगने पर जांच के लिए जांच के लिए टीम बनाई गई।

तीन महीने पहले हुआ था विवाद

जांच में पता चला कि पहले ननके ओझा व पड़ोसी गांव पिपराभोधर के तिलकराम मौर्या के बीच तीन पहले गाय की खरीदारी को लेकर विवाद हुआ था। इसीलिए उसने तिलकराम मौर्या व उसके लड़के आनंद को फंसाने की योजना बनाई। तिलकराम ने अपने साथी अभियुक्त अमरेश यादव से अपने बांये हाथ में गोली मरवाई। फायरिंग में प्रयुक्त तमंचा व कारतूस को बरामद कर लिया है।

शातिर किस्म का अपराधी है

अपर पुलिस अधीक्षक शिवराज ने बताया कि अमरेश यादव अन्तर्जनपदीय लुटेरा और शातिर किस्म का अपराधी है। उसके ऊपर बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर आदि जनपदों में लूट व जानलेवा हमला करने जैसे कई मुकदमें दर्ज है। अमरेश यादव पुत्र काशीराम यादव श्रावस्ती का रहने वाला है।

खबरें और भी हैं...