• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gonda
  • 9 Thousand People Surrendered Ration Cards In Gonda There Are 20 Thousand Ration Card Holders In The District, DSO Said – Team Is Doing Verification From Village To Village

राशन कार्ड सरेंडर करने पहुंचे लोग, कहा-हमें नहीं चाहिए:गोंडा में 9 हजार लोगों ने राशन कार्ड सरेंडर किए, DSO बोले- गांव-गांव जाकर टीम कर रही वेरिफिकेशन

गोंडा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऑफिस में राशन कार्ड के सरेंडर के लिए पहुंच रहे लोग। - Dainik Bhaskar
ऑफिस में राशन कार्ड के सरेंडर के लिए पहुंच रहे लोग।

गोंडा में इस समय अपात्र राशन कार्ड में खलबली मची हुई है। इन दिनों हर कोई राशन कार्ड की स्थिति को लेकर जानकारी करने में जुटा है। सरकार के गाइडलाइन को पता कर रहा है।

जिला पूर्ति अधिकारी सुरेंद्र यादव ने बताया कि जिले में कुल 60 हजार राशन कार्ड होल्डर हैं। इसमें 20 हजार राशन कार्ड पात्र हैं। इसमें लगभग 9 हजार लोगों ने अब तक कार्ड सरेंडर कर दिया है।

राशन कार्ड के सरेंडर के लिए ऑफिस पहुंच रहे लोग।
राशन कार्ड के सरेंडर के लिए ऑफिस पहुंच रहे लोग।

उन्होंने बताया कि जिसके पास 4 पहिया वाहन, ट्रैक्टर, कल्टीवेटर, हार्वेस्टर,एसी, इनकम टैक्स पेई, सरकारी नौकरी या पेंशनर है। यह सभी लोग अपात्र हैं। इनमें भी ग्रामीण क्षेत्रों में जिनकी आय दो लाख से ज्यादा और नगर क्षेत्र में तीन लाख से ज्यादा है। वह भी अपात्र हैं।

जिला आपूर्ति अधिकारी सुरेंद्र यादव ने एक सवाल के जवाब में कहा कि यदि किसी के पास चार पहिया वाहन है। उनकी आय ग्रामीण क्षेत्र में दो लाख और शहरी क्षेत्र में तीन लाख नहीं हैं, तो क्या वह पात्र होंगे। इस पर उन्होंने कहा कि नहीं, इसमें तो विचार किया जाएगा। यदि उसने चार पहिया वाहन अपने धंधे के लिए खरीदा है और उसकी इतनी आय नहीं है। तो वह अपात्र नहीं किया जाएगा।

जिला आपूर्ति अधिकारी ने राशन कार्ड के बारे में जानकारी दी।
जिला आपूर्ति अधिकारी ने राशन कार्ड के बारे में जानकारी दी।

जिला आपूर्ति अधिकारी सुरेंद्र यादव ने बताया कि जिले में राजस्व की टीम बनाकर गांव गांव जाकर सत्यापन किया जाएगा और पात्रों का राशन कार्ड डिलीट किया जाएगा। इस समय जिला पूर्ति कार्यालय पर लोगों की भीड़ जुटी है। जो लोग अपात्रता की श्रेणी में आते हैं ऐसे लोग अपने राशन कार्ड सरेंडर कर रहे हैं।