गोंडा में लापरवाही बरतने पर कानूनगो और लेखपाल निलंबित:जिलाधिकारी को गुमराह करने, गलत रिपोर्ट देने पर हुई कार्रवाई

गोंडा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गोंडा में जिलाधिकारी को गुमराह करने और सरकारी कार्य में लापरवाही बरतने पर एसडीएम ने एक रजिस्ट्रार कानूनगो और एक लेखपाल को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। सरकारी भूमि पर अवैध अतिक्रमण की शिकायत मिलने पर डीएम ने जांच कर रिपोर्ट देने का कहा था। रिपोर्ट में लेखपाल ने अतिक्रमण नहीं किये जाने की रिपोर्ट की थी।

उप जिलाधिकारी करनैलगंज हीरालाल ने बताया कि शनिवार को सम्पूर्ण समाधान दिवस में गुरसडा में तालाब की भूमि पर अवैध अतिक्रमण किये जाने की शिकायत डीएम के पास आई थी। जिस पर गुरसडा के लेखपाल राघवेंद्र प्रताप सिंह से जानकारी लेने पर उन्होंने शिकायत को निराधार बताया। प्रकरण संदिग्ध देखकर नायब तहसीलदार करनैलगंज से जांच कराई गई। जिस पर तालाब की भूमि पाटकर उस पर बांस बल्ली लगाकर अतिक्रमण किया जाना पाया गया। जिस पर लेखपाल राघवेंद्र प्रताप सिंह को उच्चाधिकारियों को गुमराह करने का प्रयास करने, अपने दायित्वों के प्रति घोर लापरवाही और उदासीनता बरतने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया।

उप जिलाधिकारी करनैलगंज हीरालाल।
उप जिलाधिकारी करनैलगंज हीरालाल।

नीलामी बाधित करने पर कानूनगो निलंबित
चकमार्ग पर लगे वृक्षों की नीलामी बाधित करने वाले रजिस्ट्रार कानूनगो को निलंबित किया गया है। एसडीएम ने बताया कि गोनवा में गाटा संख्या 175 चक मार्ग की भूमि है। उसमें बबूल, शीशम, नीम, बकैना व शहतूत के वृक्ष लगे हैं। जिससे चक मार्ग की पटाई बाधित है। वृक्षों को काटने के लिये लेखपाल और रजिस्ट्रार कानूनगो रामयज्ञ द्वारा मूल्यांकन कराकर नीलाम अधिकारी नामित करने का भी अनुरोध करते हुये तहसीलदार करनैलगंज के समक्ष नीलाम अधिकारी नामित करने के लिये पत्रावली प्रस्तुत की थी।उसी दिन तहसीलदार ने अपनी टिप्पणी भी अंकित कर दी। उसके बाद 8 माह तक पत्रावली को अपने पास रखा। जिससे चक मार्ग की पटाई बाधित रही।

दायित्वों के प्रति उदासीनता बरतने पर कार्रवाई
उन्होंने बताया कि पत्रावली का अवलोकन करने पर पता चला कि वृक्षों की नीलामी करने के लिये नायब तहसीलदार कटरा बाजार पूर्व में ही नामित किये गए थे। नीलामी प्रक्रिया को बाधित रखने के उद्देश्य से फिर से नीलाम अधिकारी नामित कराने की भ्रामक सूचना देने और अपने दायित्वों के प्रति उदासीनता बरतने के आरोप में उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

खबरें और भी हैं...