गोण्डा में ‘उत्कृष्ट प्रधान’ पुरस्कार पाने का मौका:डीएम ने शुरू की पहल, 10 बेहतरीन सामुदायिक शौचालय और पंचायत भवन बनाने वाले प्रधान और सचिव होंगे सम्मानित

गोण्डा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोण्डा में ‘उत्कृष्ट प्रधान’ पुरस्कार पाने का मौका। - Dainik Bhaskar
गोण्डा में ‘उत्कृष्ट प्रधान’ पुरस्कार पाने का मौका।

गोण्डा जनपद के 10 बेहतरीन सामुदायिक शौचालय और 10 बेहतरीन पंचायत भवन बनाने वाले प्रधान और सचिव को 'उत्कृष्ट प्रधान' और 'उत्कृष्ट जीपीए/जीवीए' पुरस्कार जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी की तरफ से दिया जाएगा। इंट्री भेजने की आखिरी तिथि सामुदायिक शौचालय के लिए 20 अक्टूबर और पंचायत भवन के लिए 20 नवम्बर निर्धारित की गई है। एंट्री ओडीएफ वार रूम विकास भवन में सॉफ्ट/हार्ड कॉपी में प्राप्त किया जाएगा. जिला स्तरीय 4 सदस्यीय समिति एंट्रीज का मूल्यांकन करेगी। सम्बंधित सचिव की सर्विस बुक में भी इस पुरस्कार को दर्ज किया जाएगा।

अन्त्योदय राशन कार्ड धारकों को नायाब तोहफा

प्रदेश सरकार द्वारा अन्त्योदय राशन कार्ड धारकों को नायाब तोहफा दिया जा रहा है. जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने बताया कि जिले के 64,781 अन्त्योदय कार्ड धारकों को मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत गोल्डन कार्ड अगले तीन दिन के अन्दर दिए जाने हैं.

जिलाधिकारी ने जनपद के सभी अन्त्योदय कार्ड धारकों से अपील की है कि वे शुक्रवार 08 अक्टूबर से 10 अक्टूबर तक अगले तीन दिन तक चलने वाले महाअभियान में अपना गोल्डन कार्ड जरूर बनवा लें. उन्होंने बताया कि आगामी 11 अक्टूबर को प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा लखनऊ से अन्त्योदय कार्ड धारकों को मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत गोल्डन कार्ड का वितरण किया जाएगा, जिसका सीधा प्रसारण प्रदेश के जनपद में किया जाएगा।

डीएम ने गोल्डेन कार्ड बनवाने की अपील की

जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद स्तर पर जनप्रतिनिधियों द्वारा अन्त्योदय कार्ड धारकों को गोल्डन कार्ड का वितरण किया जाएगा. उन्होंने अपील की है कि अंत्योदय कार्ड धारक सीएचसी, पीएचसी, काॅमन सर्विस सेन्टर (वीएलई) और अपनी ग्राम पंचायत के सरकारी कोटे की दुकान पर जाकर गल्ला प्राप्त करने के साथ-साथ अपना गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं। उन्होंने कहा कि आकस्मिकता के दौरान विसंगतिपूर्ण स्थिति से बचने के लिए सभी कार्डधारक अपना गोल्डन कार्ड अवश्य बनवा लें, जिससे उन्हें कठिनाई का सामना न करना पड़े।

परिजनों को भी मिलेगा योजना का लाभ

ज्ञात है कि मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत गोल्डन कार्ड धारकों को सरकार द्वारा सूचीबद्ध अस्पतालों में पांच लाख रुपए तक का मेडिकल उपचार मुफ्त मुहैया कराया जा रहा है. इसमें विभिन्न प्रकार की जांच, हाॅस्पिटल में भर्ती एवं भर्ती रहने के दौरान सभी खर्चे, दवाइयां, ऑपरेशन आदि सम्मिलित हैं। यानि गोल्डन कार्ड धारकों को बीमार पड़ने पर सिर्फ अपना गोल्डन कार्ड चिन्हित हॉस्पिटल में लेकर जाना होगा। वहां उसको इलाज के लिए कोई पैसा नहीं देना पड़ेगा और पांच लाख रुपए की सीमा तक मुफ्त इलाज मिलेगा। यह भी ज्ञात है कि अन्त्योदय कार्ड धारक व्यक्ति के साथ-साथ उसके परिजनों को भी इस योजना का लाभ मिलेगा।

खबरें और भी हैं...