गोंडा में कोटे की दुकानों पर कम मिला स्टॉक:4 दुकानों के निरस्त किए गए लाइसेंस, कई दुकानदारों को दी गई नोटिस

गोंडा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिलाधिकारी। - Dainik Bhaskar
जिलाधिकारी।

गोंडा जिले में घटतौली और कम स्टाक पाये जाने पर जिलाधिकारी के निर्देश पर उचित दर के विक्रेताओं(कोटे की दुकान) पर कार्रवाई की गई है। कई दुकानों के लाइसेंस भी निरस्त किए गए।

4 दुकानों के निरस्त किए गए लाइसेंस

जिला पूर्ति अधिकारी सुरेंद्र यादव ने बताया है कि जनपद के अलग-अलग क्षेत्रों के 04 उचित दर विक्रेता के दुकानों को निरस्त किया गया है। निरस्त की जाने वाली दुकानें दिलीप कुमार दुबे उचित दर विक्रेता ग्राम पंचायत विशुनपुर तिवारी, विकास का इटियाथोक के स्टाक में गेहूं 82.85 कुंतल व चावल 45.41 कुंतल व खाद्य तेल 204 पैकेट (प्रत्येक पैकेट 1 लीटर), चना 202 पैकेट (प्रत्येक पैकेट 01 किलो.ग्राम), एवं नमक 136 पैकेट (प्रत्येक पैकेट 1 किलोग्राम) कम पाये जाने के दृष्टिगत उचित दर विक्रेता पर प्रथम सूचना रिपोर्ट अंकित कराते हुए समस्त प्रतिभूति की धनराशि जब्त करते हुए उचित दर दुकान का अनुबंध पत्र निरस्त कर दिया गया है।

बैठक करते अधिकारी।
बैठक करते अधिकारी।

इन पर भी हुई कार्रवाई

इसके साथ ही श्री कृष्ण तिवारी, उचित दर विक्रेता, ग्राम पंचायत काजीदेवर विकासखंड झंझरी द्वारा आवश्यक वस्तुओं का वितरण निर्धारित मात्रा से कम मात्रा में किये जाने के फलस्वरुप समस्त प्रतिभूति की धनराशि जब्त करते हुए उचित दर दुकान का अनुबंध पत्र निरस्त कर दिया गया है तथा धनीराम, उचित दर विक्रेता, ग्राम पंचायत भैरमपुर विकासखंड रुपईडीह द्वारा आवश्यक वस्तुओं का वितरण निर्धारित मात्रा से कम मात्रा में किये जाने के फलस्वरुप समस्त प्रतिभूति की धनराशि जब्त करते हुए उचित दर दुकान का अनुबंध पत्र निरस्त कर दिया गया है, एवं गौरी लाल, उचित दर विक्रेता ग्राम पंचायत बैरीपुर रामनाथ, विकासखंड मनकापुर द्वारा आवश्यक वस्तुओं का वितरण निर्धारित मात्रा से कम मात्रा में किये जाने के फलस्वरुप समस्त प्रतिभूति की धनराशि जब्त करते हुए उचित दर दुकान का अनुबंध पत्र निरस्त कर दिया गया है।

खबरें और भी हैं...