गोंडा में कांग्रेसियों का खाद की किल्लत को लेकर प्रदर्शन:बोले-किसानों को शीघ्र उपलब्ध कराएं डीएपी, राज्यापाल को भेजा ज्ञापन

गोंडा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोंडा में खाद की किल्लत को लेकर सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपते कांग्रेस पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
गोंडा में खाद की किल्लत को लेकर सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपते कांग्रेस पदाधिकारी।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पूर्व सांसद बृजलाल के निर्देश पर एवं प्रांतीय अध्यक्ष अवध जोन पूर्व मंत्री नकुल दुबे के आह्वान पर बुधवार को कांग्रेस ने खाद की किल्लत को लेकर प्रदर्शन किया। इसके बाद राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा।

कांग्रेस ने बताया कि जिले के किसानों को रबी फसल की बुवाई में डीएपी खाद साधन सहकारी समितियों पर न मिलने के कारण बाजार में महंगे दाम पर लेने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। उन्हाेंने शीघ्र ही खाद उपलब्ध कराने की मांग की। साथ ही बजाज ग्रुप की कुंदरकी चीनी मिल से किसानों के गन्ने का भुगतान तत्काल कराए जाने की मांग की।

15 में गन्ना भुगतान की मांग

कांग्रेसियों ने कहा कि नए गन्ना पेराई सत्र में नियमानुसार 15 दिन के अंदर भुगतान हर हाल में दिलाया जाए। यदि कुंदरकी चीनी मिल 15 दिन में गन्ने का भुगतान किसानों को दे पाने में सक्षम नहीं हो पा रही है, तो ऐसी स्थिति में इस चीनी मिल क्षेत्र के किसानों के गन्ने को मैजापुर चीनी मिल में सम्मिलित किया जाए। जिससे गन्ना किसानों की बदहाली वह तंगहाली पर लगाम लग सके और वह अपनी खेती आसानी से कर सकें।

ज्ञापन देने वाले कार्यकर्ता

ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से पीसीसी सदस्य प्रमोद मिश्रा, शहर अध्यक्ष रफीक, शिव कुमार दुबे, प्रदुमन शुक्ला, हरिराम वर्मा, संतोष ओझा, संदीप मिश्रा, सत्येंद्र कुमार तिवारी, हनुमान प्रसाद, सुभाष चंद्र पांडे, इसहाक अहमद शुक्ला प्रसाद शुक्ला, अनुपम द्विवेदी, ओपी शर्मा, सय्यद अब्दुल मुजीब, राज कुमार शुक्ला, विवेक गिरी, अनिरुद्ध ओझा एडवोकेट सुरेंद्र कुमार ओझा सहित तमाम लोग उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...