गोंडा में बनेगा तुलसी जन्मभूमि मंदिर:संतों ने दिल्ली जाकर मंदिर बनाने की मांग की, कहा-गोंडा ही है तुलसीदास की जन्म स्थली

गोंडा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संतों ने उठाई तुलसी जन्मभूमि मंदिर बनाने की मांग। - Dainik Bhaskar
संतों ने उठाई तुलसी जन्मभूमि मंदिर बनाने की मांग।

गोण्डा में राम मंदिर की तरह भव्य तुलसी जन्मभूमि मंदिर का निर्माण करवाया जाएगा। तुलसी जयंती महोत्सव के अवसर पर 16 सितंबर को दिल्ली के राजौरी गार्डन विश्व गिरी शिव मंदिर में देश के कोने-कोने से संत आए हुए थे। वहीं पर गोंडा से पहुंचे संतों ने इस बात पर बल दिया था। संतों का कहना है कि अब तो साफ हो चुका है कि गोंडा ही तुलसीदास की जन्म स्थली है। ऐसे में हमें उनके सम्मान में एक मंदिर का निर्माण करना चाहिए।

तुलसीदास जी का गांव है राजपुर

दिल्ली से वापस आए श्री तुलसी जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष स्वामी भगवदाचार्य ने शनिवार को बताया कि यहां पर तुलसीदास जी के मंदिर का निर्माण होना हमारे लिए सौभाग्य की बात होगी। उन्होंने कहा कि गोण्डा में ही तुलसीदास की जन्म भूमि राजपुर ग्राम है। यहां पर गोस्वामी तुलसी दास के पिता आत्मा राम के नाम से खसरा खतौनी भी है। राजापुर में तुलसी जी का मंदिर भी स्थापित है।