कैंपियरगंज की महिला चार साल से भटक रही:साहब, हिस्ट्रीशीटर नहीं बनवाने दे रहे घर, मुख्यमंत्री दरबार में भी नहीं मिला न्याय

कैंपियरगंज, गोरखपुर5 दिन पहले
समाधान दिवस पर शिकायत लेकर पहुंची महिला। - Dainik Bhaskar
समाधान दिवस पर शिकायत लेकर पहुंची महिला।

थाना पुलिस और मुख्यमंत्री दरबार तक न्याय के लिए चार से भटक रही महिला समाधान दिवस में अपनी शिकायत लेकर पहुंची। अफसरों से कही कि साहब चार साल से हिस्ट्रीशीटर पैतृक जमीन पर घर नहीं बनवाने दे रहा है। शनिवार को पीपीगंज और कैंपियरगंज थाने पर समाधान दिवस लगा था। कैंपिरयगंज थाने में 21 शिकायतें लेकर पहुंचे, जिसमें दो का मौके पर निस्तारण कर दिया गया। पीपीगंज थाने में 18 शिकायतों में से 3 का हल कर दिया गया। बाकी शिकायतों के लिए टीम गठित कर दी गई है।

पुलिस का नहीं मिल रहा सहयोग

बीमार पति और बच्चो संग पहुंची रेनू जायसवाल ने एसडीएम पंकज दीक्षित को बताई की वह अपनी पैतृक जमीन पर मकान बनवाना चाह रही है। गांव के दो हिस्ट्रीशीटर मकान बनवाने में बाधा डाल रहे हैं। दोनों सगे भाई हैं। इसके बाद भी पुलिस मदद नहीं कर रही है। जिसके बाद एसडीएम ने थानाध्यक्ष और राजस्व निरीक्षक, लेखपाल की संयुक्त टीम गठित कर मामले के निस्तारण का निर्देश दिए।

जमीनी विवाद के ही सर्वाधिक मामले

सबसे अधिक मामले जमीन विवाद से ही जुड़े आए, जिनमे कुछ पीड़ितों ने बताया कि तहसील से लेकर समाधान दिवस पर कई बार प्रार्थना पत्र देने के बाद भी विवाद का निपटारा नहीं हो पा रहा है। पीपीगंज में एसडीएम पंकज दीक्षित, थानाध्यक्ष दुर्गेश कुमार सिंह, राजस्व निरीक्षक अजित सिंह समेत सभी हल्का लेखपाल एवं कैंपियरगंज में प्रभारी उपनिरीक्षक राकेश सिंह, राजस्व निरीक्षक माधवेन्द्र प्रताप सिंह समेत सभी हल्का लेखपाल मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...