राजघाट पर कलाकारों ने रेत से बनाई भारत-माता की आकृति:तिरंगा लेकर हाथों में युवाओं ने किया परेड, कलाकारों ने 3 घंटे तैयार की आकृति

गोरखनाथ3 दिन पहले

गोरखपुर के राप्ती नदी के तट पर कलाकारों ने रेत शिल्प के जरिए भारत माता की आकृति बनाई। संस्कार भारती संस्था ने भारत माता पूजा की आराधना के नाम से और गणतंत्र दिवस के अवसर पर रेत शिल्प के जरिए इस कला का प्रदर्शन किया। जिसमें कलाकारों ने 3 घंटे तक रेत शिल्प से भारत माता और चंद्रशेखर आजाद के आकृति को तैयार किया।

कलाकारों का करें सम्मान
संस्कार भारती की सदस्य सुधा मोदी ने बताया की "राजघाट के तट पर जिन कलाकारों ने भारत माता और चंद्रशेखर आजाद का आकृति बनाया है। ऐसे कलाकारों का समाज में सम्मान हो होना चाहिए। क्योंकि यही कलाकार देश की प्रतिभा को आगे बढ़ाते हैं। इस तरह के कार्यक्रम से आने वाली पीढ़ी को भी प्रोत्साहित किया जा सकता है।

मिट्टी से जुड़े हैं हम लोग
रेत शिल्प के द्वारा भारत माता की आकृति बना कर भारत माता की पूजा संस्कार भारती संस्था के द्वारा किया जा रहा है। पूजा चित्रपट से भी की जा सकती थी लेकिन भारत के लोग मिट्टी से जुड़े हुए हैं। इसलिए रेत शिल्प के जरिए भारत माता की पूजा कर रहे हैं। इस अभियान को आगे बढ़ाकर हर जगह कलाकारों के जरिए इस तरह की आकृति बनाकर, अपने कलाकारों को आगे बढ़ाने का काम किया जाएगा।