गोरखपुर...CDO और 9 डाक्टरों सहित 350 लोग मिले कोरोना पॉजिटिव:15 बच्चे भी मिले संक्रमित, सभी की उम्र एक से 12 साल; DIG कार्यालय के दो और कर्मी पॉजिटिव

गोरखपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संक्रमितों में एम्स के दो, बीआरडी मेडिकल कालेज के तीन, स्वास्थ्य विभाग के दो व दो निजी डाक्टर भी शामिल हैं। - Dainik Bhaskar
संक्रमितों में एम्स के दो, बीआरडी मेडिकल कालेज के तीन, स्वास्थ्य विभाग के दो व दो निजी डाक्टर भी शामिल हैं।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम होने का नाम नहीं ले रही है। संक्रमण की जांच में बुधवार को सीडीओ, 9 डाक्टरों व 15 बच्चों समेत 350 लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। इनमें 296 शहर के और 54 लोग ग्रामीण क्षेत्र के हैं। राहत की बात यह है कि स्वस्थ होने वालों की संख्या 517 है। इस वजह से सक्रिय रोगियों की संख्या घटकर 2435 पर आ गई है, जो मंगलवार को 2602 थी।

इन लोगों में मिला संक्रमण
संक्रमितों में एम्स के दो, बीआरडी मेडिकल कालेज के तीन, स्वास्थ्य विभाग के दो व दो निजी डाक्टर भी शामिल हैं। एम्स के दो कर्मचारी, फातिमा अस्पताल के तीन कर्मचारी व मेडिकल कालेज के पांच छात्रों में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है। डीआइजी कार्यालय के दो कर्मी व एमएमयूटी के एक छात्र की भी रिपोर्ट पाजिटिव आई है।

इसके अलावा 10 नंबर बोरिंग निवासी एक साल व मेडिकल कालेज के दो साल के मासूम सहित राजेंद्र नगर, सूर्यकुंड, पांडेय टोला झंगहा, नेहरू अस्पताल, रेलवे स्टेशन, नंदानगर, छात्रसंघ चौराहा, मोहद्दीपुर, उरुवा, इलाहीबाग, चरगांवा, बशारतपुर, दारुल उलूम मदरसा के 15 बच्चे संक्रमित मिले हैं। इनकी उम्र क्रमश: नौ, 10, 12, 11, पांच, 11, 12, छह, तीन, तीन, तीन, नौ व 12 साल है। इसके अलावा बगहा बाबा व बरगदवां के एक-एक परिवार में चार-चार लोग तथा तारामंडल के एक परिवार में तीन सदस्य पाजिटिव मिले हैं।

वैक्सीनेशन की अपील
सीएमओ डा. आशुतोष कुमार दूबे ने बताया कि पहली लहर से लेकर अब तक जिले में 63164 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 59879 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। 850 की मौत हो चुकी है। उन्होंने बचाव की अपील करते हुए कहा है कि कोविड प्रोटोकाल का पूरा पालन करें। जरूरी हो तो ही घर से बाहर निकलें। मास्क जरूर लगाएं। शारीरिक दूरी बनाए रहें। जिन लोगों को अभी कोरोनारोधी टीका नहीं लग सका है, वे बूथों पर पहुंचकर टीका जरूर लगवा लें। ये सभी उपाय कोरोना से बचाने में काफी मददगार हैं। थोड़ी भी लापरवाही भारी पड़ सकती है। हम सभी मिलकर लड़ेंगे तो ही कोरोना को हरा पाएंगे।

खबरें और भी हैं...