यूपी पुलिस का मिशन एनकाउंटर:गोरखपुर 15 दिन में 5 मुठभेड़ में 6 बदमाशों को गोली मारी, एक मारा गया; 3 माफियाओं की 100 करोड़ की संपत्ति जब्त, 25 की लिस्ट रेडी

गोरखपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

यूपी पुलिस ने गोरखपुर में ऑपरेशन क्लीन की कार्रवाई तेज कर दी है। बीते 15 दिन में पुलिस ने 5 एनकाउंटर किए हैं। इनमें एक बदमाश मारा गया है। मुठभेड़ में 6 बदमाश घायल भी हुए हैं। इसके साथ ही माफियाओं की संपत्ति को भी जब्त करने की कार्रवाई की जा रही है। अब तक 100 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति जब्त हो चुकी है।

15 दिन में हुए एनकाउंटर

  • 14 जून 2021: खोराबार इलाके के रामनगर कड़जहां में पुलिस मुठभेड़ में शातिर बदमाश प्रिंस पांडेय को लगी गोली। प्रिंस पर 25 मामले दर्ज हैं।
  • 13 जून 2021: रामगढ़ताल इलाके के नौकायन पर पुलिस मुठभेड़ में हिस्ट्रीशीटर अमित को लगी गोली। अमित पर गोरखपुर में 23 संगीन मामले दर्ज हैं।
  • 06 जून 2021: पीपीगंज और चिलुआताल इलाके के बार्डर पर एक लाख के इनामी परवेज अहमद को एसटीएफ ने मुठभेड़ में मार गिराया। परवेज पर अंबेडकर नगर, लखनऊ में 40 से ज्यादा केस दर्ज थे।
  • 06 जून 2021: गुलरिहा इलाके में पुलिस से मुठभेड़ में दो लाख की लूट में शामिल गौरव और संतोष यादव को गोली लगी। दोनों ने हाल ही में जनसेवा केंद्र पर डकैती की वारदात को अंजाम दिया था। इससे पहले भी इन पर लूट के कई केस दर्ज हैं।
  • 01 जून 2021: कैंट इलाके के कार्मल रोड पर हुई मुठभेड़ में शातिर बदमाश चंदन चौहान पुलिस की गोली से घायल। चंदन पर लूट, चोरी समेत कई केस दर्ज हैं।

तीन बड़े माफियाओं पर कार्रवाई
पिछले 15 दिन के भीतर माफिया प्रदीप सिंह, सुधीर सिंह और रणधीर सिंह की करोड़ों रुपए की संपत्ति जब्त की है। इसमें जेल में बंद माफिया प्रदीप सिंह की खेत, जमीन, 3 आलीशान मकान और 3 लग्जरी गाड़ी जिसकी कीमत लगभग 19 करोड़ शामिल है।

इसके अलावा, सुधीर सिंह की दो लग्जरी फॉर्च्यूनर गाड़ी (कीमत सवा करोड़ रुपये) और गैंगेस्टर रणधीर सिंह की एचएन सिंह चौराहे पर स्थित एक एकड़ से ज्यादा में बने दुकान, कॉम्प्लेक्स, रेस्टोरेंट और लॉन सहित करीब 65 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई। इन माफियाओं ने भय और अवैध तरीके से संपत्ति अर्जित की है, जिसके बाद माफियाओं के इन अवैध रूप से अर्जित संपत्ति पर एक्शन लेते हुए प्रशासन ने इसे सीज कर दिया है। हालांकि इससे पहले भी पुलिस ने माफिया विनोद उपाध्याय, सौरभ विश्वकर्मा समेत कई माफियाओं की संपत्ति जब्त की थी।

इन माफियाओं पर दर्ज है दर्जनों केस
जिले के टॉप-10 अपराधी माफिया सुधीर सिंह पर लखनऊ समेत गोरखपुर जिले के विभिन्न थानों में हत्या, हत्या का प्रयास, लूट, गुंडा ऐक्ट समेत 37 से अधिक मामले दर्ज हैं। जबकि प्रदीप सिंह पर लूट, डकैती हत्या, गैंगेस्टर, आर्म्स ऐक्ट समेत 57 से ज्यादा मामले दर्ज हैं। वहीं, रणधीर सिंह पर भी शाहपुर थाने में गंभीर धाराओं में 10 से अधिक मामले दर्ज हैं।

प्रशासन की कार्रवाई से दहशत में माफिया
जिला प्रशासन के एक के बाद एक माफियाओं पर बड़ी कार्रवाई के बाद जिले के अन्य अपराधी दहशत में आ गए हैं। डीएम के. विजेंद्र पंडियन का कहना है कि अभी तक दर्जनों अपराधियों की अवैध रूप से अर्जित संपत्ति को जब्त कर कार्रवाई की गई है। वहीं अन्य की लिस्ट तैयार की जा रही है। वहीं, एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु ने कहा कि गोरखपुर में अपराध करने वाले बदमाशों के लिए कोई जगह नहीं है। थानेवार बदमाशों की लिस्ट तैयार कर पुलिस लगातार उनपर कार्रवाई कर रही है।

सिर्फ मुख्तार-अतीक नहीं, सीएम योगी के रडार पर 25 से ज्यादा बड़े माफिया
यूपी में माफियाओं व अपराधियों पर लगातार कार्रवाई कर रही है। पुलिस ने सिर्फ मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद ही नहीं, बल्कि प्रदेश के ऐसे 25 बड़े माफिया को चिह्नित किया, जिनके नाम से लोगों में दहशत हो जाती थी और उनका ‘सिक्का’ हर सरकार में चलता था।

पुलिस ने उनके गैंग के अन्य अपराधियों और सहयोगियों के खिलाफ भी कार्यवाही शुरू की। माफिया के खिलाफ शुरू हुई कार्यवाही में अवैध बूचड़खाना और स्लाटर हाउस के ध्वस्तीकरण, पार्किंग ठेके की आड़ में अवैध वसूली पर लगाम, अवैध मछली कारोबार, सरकारी जमीनों को अवैध कब्जे से अवमुक्त कराने के सघन प्रयास, अपराधी शूटरों के खिलाफ सख्त कार्यवाही, ठेकेदार माफिया के खिलाफ कार्यवाही, कोयला कारोबार से अवैध रूप से अर्जित की गई सम्पत्ति के जब्तीकरण आदि की कार्यवाहियां प्रमुख हैं।

खबरें और भी हैं...